सरकार का बड़ा फैसला: फिटनेस, टैक्स डिफॉल्टर वाहनों के लिए माफी

0
403

बिहार सरकार ने कैबिनेट बैठक में बड़े फैसले लिए हैं. इसके अंतर्गत टैक्स डिफाल्टर निबंधित अथवा अनिबंधित ट्रैक्टर-ट्रेलर, जो कृषि अथवा व्यावसायिक कार्यों में कार्यरत हैं. वे 50 हजार जमा करके अपने वाहन को निबंधित अथवा विनियबंधित करा सकते हैं. ऐसे वाहन जो एक वर्ष तक के लिए टैक्स डिफॉल्टर हैं, उन्हें बकाया कर देने के बजाय कूल ह-र्जाना का 30 प्रतिशत ही देना होगा।

यदि एक वर्ष से अधिक समय के लिए डिफॉल्टर है, तब तो उन्हें बकाया कर के अतिरिक कुल आर्थिक दंड का 50 प्रतिशत जमा करना होगा. इस नियम का पालन करने वाले लोंगों को नि-लाम पत्र वापस ले लिए जायेंगे . इसके लिए नियम यह है कि योजना के अधिसूचना जारी होने के 90 दिनों के अन्दर पूरी राशी जमा कर दी जानी चाहिए  कैबिनेट ने इस मामले को लेकर स्वीकृति दे दी है . फिटनेस डिफॉल्टर को भी मौका दिया गया है .

इस मामले में परिवहन सचिव संजय अग्रवाल ने जानकारी दी कि फिटनेश की वैधता ख़त्म होने के बाद प्रत्येक दिन 50 रूपये का शुल्क लिया जाता है मगर 90 दिनों के लिए फिटनेस फीस को घटा दिया गया है और दो पहिया तथा तिपहिया वाहन के लिए 10 रूपये, 15 रूपये व्यावसायिक ट्रैक्टर के लिए और छोटे चार पहिया वाहनों के लिए 20 रुपया एवं 30 रुपया भारी परिवाहनों के लिए प्रतिदिन निर्धारित किया गया है.

गया जिले में फल्गु नदी के किनारे विष्णुपद मंदिर के पास पूरे साल भर तक दो फीट पानी रखने के लिए डीपीआर तैयार किये जाने के लिए स्वीकृति दे दी गई है. इस मुद्दे पर सरकार डेढ़ करोड़ रूपये खर्च करेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here