चुनाव लड़ने को लेकर 11 साल पहले भी गुप्तेश्वर पांडेय ने दिया था इस्तीफा, फिर पहन ली वर्दी

0
420

बिहार विधानसभा चुनाव से पहले बिहार के महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय स्वैच्छिक सेवानिवृति ले ली है। गृह विभाग ने इस मामले में जानकारी दी और जारी अधिसूचना में सूचित किया कि राज्य पाल फागु चौहान ने इसे मंजूरी दे दी है.
अपर पुलिस महानिदेशक जितेंद्र कुमार ने कहा कि भारतीय पुलिस सेवा के वरिष्ठ अधिकारी एसके सिंघल को बिहार के पुलिस महानिदेशक के पद का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया है। वे वर्तमान में महानिदेशक के पद पर हैं.

लोकसभा चुनाव में ही गुप्तेश्वर पांडेय चाहते थे टिकट
पांडेय हाल ही में अभिनेता सुशांत सिंह मामले में महाराष्ट्र के शिवसेना सरकार के नीतीश कुमार पर हमले को लेकर सुर्ख़ियों में रहे। समय से पहले ही वे सेवानिवृति ले ली थी टी ताकि लोकसभा चुनाव 2009 में लड़ सके। लेकिन बाद में राज्य सरकार ने उनकी वीआरएस याचिका स्वीकार नहीं की थी और उन्हें पुलिस सेवा में बहाल कर दिया था।

सूत्रों के मुताबिक वे बक्सर लोकसभा सीट पर भाजपा के टिकट से चुनाव लड़ना चाह रहे थे। उन्हें यह उम्मीद थी कि बक्सर से भाजपा के तत्कालीन सांसद लालमुनि चौबे को पार्टी दोबारा से प्रत्याशी नहीं बनाएगी मगर लालमुनि चौबे को पार्टी दोबारा से प्रत्याशी के तौर पर नहीं उतारेगी लेकिन लालमुनि चौबे को पार्टी ने मंजूरी दी और वे लोकसभा चुनाव में उतरने से रह गए। इसके बाद वे नौकरी में वापसी कर ली।


इस्तीफे के 9 माह के बाद वे सरकार से गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि वे वापस से अपना इस्तीफा लेना चाहते हैं और नौकरी करना चाहते हैं. बिहार में नीतीश सरकार ने यह बात मान ली। तब वे आईजी रहे थे और 2019 में उन्हें बिहार का डीजीपी बनाया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here