इंटरनेशनल पैसेंजर्स को लेकर बिहार में हाई अलर्ट, इतने दिनों तक रहना होगा क्वारैंटाइन

0
269

देश में कोरोना के खतरे को ध्यान में रखते हुए इंटरनेशनल पैसेंजर्स को लेकर देश में हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है. भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग व मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण के निर्देश के बाद बिहार में भी अलर्ट जारी कर दिया गया है. मुख्य सचिव की तरफ से भेजे गए दिशा निर्देश में इंटरनेशनल यात्रियों को लेकर चौकसी बढ़ाने को कहा गया है.

ऐसे में अब विदेश से आने वालों को कोरोना की रिपोर्ट निगेटिव होने के बाद भी 10 दिनों तक क्वारैंटाइन होना पड़ेगा. रेलवे स्टेशन से लेकर एयरपोर्ट पर जांच को लेकर सक्ती बढ़ाने का आदेश दिया गया है. साथ ही स्वास्थय विभाग ने अधिकारियों को निर्देश जारी किया है कि विदेश से आने वालों का सर्च ऑपरेशन तेज किया जाए. और सख्ती की जाए. साथ ही यह भी कहा गया है कि कोई भी यात्री छुटने न पाए. साथ ही अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की कड़ी निगरानी का आदेश दिया गया है.

बता दें कि इस पूरे मामले को लेकर बोलते हुए स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग व मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने कहा कि इंटरनेशनल यात्रियों की निगरानी में कहीं से कोई चूक नहीं होनी चाहिए. अंतरराष्ट्रीय यात्रियों से विशेष रूप से जोखिम है. अंतरराष्ट्रीय उड़ानों से कनेक्ट होकर आने वाले यात्रियों की पिछली यात्रा का पूरा विवरण लिया जाए।’ इसकी समीक्षा करने को कहा गया है.

इस पूरे मामले को लेकर भूषण ने यह भी कहा है कि कुछ राज्यों में समग्र परीक्षण के साथ-साथ RT-PCR परीक्षणों के अनुपात में गिरावट आई है. पर्याप्त परीक्षण के अभाव में, संक्रमण फैलने के सही स्तर को निर्धारित करना बेहद मुश्किल है. उन्होंने यह भी कहा है कि राज्यों को परीक्षण के बुनियादी ढांचे को मजबूत करना चाहिए और परीक्षण दिशा-निर्देशों को सख्ती से लागू करना चाहिए

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here