पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप के लिए चाहिए बोनाफाइड सर्टिफिकेट, जानिए कैसे बनवाये

0
869

बिहार पोस्ट मैट्रिक स्कालरशिप के लिए ऑनलाइन आवेदन शुरू हैं, इसके तहत तीन साल से पेंडिंग चल रही पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप की राशि छात्र छात्राओं के खाते में भेजी जायेगी. आवेदन शुरू है और अप्प्लाई व रजिस्ट्रेशन करने की अंतिम तारिख 30 सितम्बर तक ही है. बिहार सरकार के शिक्षा विभाग ने nic की मदद से अपना खुद का ऑनलाइन पोर्टल और मोबाइल एप तैयार कर लिया है जिसपर जाकर लाभुक छात्र रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं. बताते चले कि सत्र 2019 , 2020 और 2021 के मैट्रिक पास छात्र पोस्ट मेट्रिक स्कालरशिप के लिए आवेदन कर सकते हैं. इसके तहत अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, पिछड़ा वर्ग और अत्यंत पिछड़ा वर्ग के ऐसे छात्रछात्राओं को स्कॉलरशिप दी जाएगी, जो पैसे के आभाव में अपनी पढ़ाई नहीं कर पाते है। कई छात्रों ने आवेदन तो भर लिया हिया लेकिन बहुत से छात्र इसमें लगने वाले डाक्यूमेंट्स के बारे में सोचकर अभी तक कंफ्यूजन में ही हैं. आवेदन करने के लिए दस्वी का रिजल्ट, जाति , आय और आवासीय प्रमाण पत्र , संस्था की फी रिसिप्ट,बोनाफाइड सर्टिफिकेट आदि डाक्यूमेंट्स लग रहे हिं . इनमे से बाकि सब तो सही है लेकिन अब तक कई छात्र बोनाफाइड सर्टिफिकेट को लेकर दुविधा में हैं. बहुतो को बोनाफाइड सर्टिफिकेट और फी रिसिप्ट के बारे में नहीं पता है कि इसे कहाँ से उपलब्ध कराया जा सकता है. ऐसे में हम आपकी इस दुविधा को दूर करने के लिए यह पोस्ट  लेकर आये हैं जिसके बाद आप बोनाफाइड सर्टिफिकेट को बनवाने का तरीका जान पायेंगे.

बोनाफाइड सर्टिफिकेट एक ऐसा दस्तावेज है जिसके माध्यम से मूल स्थान को सत्यापित किया जाता है। मतलब इस प्रमाण पत्र के जरिए इस बात का सत्यापन होता है कि आप उस कॉलेज या संस्थान के मूल छात्र हैं या नहीं. बोनाफाईड प्रमाणपत्र को हिंदी में मूल निवास प्रमाण पत्र कहते हैं. छात्रों को विशेष रूप से स्कॉलरशिप के आवेदन करने वक्त और नए एडमिशन के तौर पर मूल निवास प्रमाण पत्र की आवश्यकता पड़ती है. ऐसे में बोनाफाईड सर्टिफ़िकेट की जरुरत पड़ती है. पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप को भरने वक्त भी बोनाफाइड सर्टिफिकेट की जरुरत पद रही है, तो चलिए बताते हैं कि आप इसे कैसे बनवा सकते हैं.

यह बोनाफाइड सर्टिफिकेट आपके कॉलेज या जिस संसथान में आप पढ़ रहे हैं उसके मुहर लगने के बाद सत्यापित होता है. इसे बनवाने के लिए अप किसी ऑनलाइन कैफे से बोनाफाइड सर्टिफिकेट के फोरमैट का प्रिंट आउट निकलवा ले. इसके बाद इस फॉर्मेट में आपको कुछ जानकारियाँ भरनी होगी. इसमें आप अपना नाम , रजिस्ट्रेशन नंबर, क्लास, सेशन , कोर्स का नाम आदि भर दे. इसके बाद डेट ऑफ़ बर्थ, माता पिता का नाम , एडमिशन की तारिख और उस कॉलेज या संस्थान से कोर्स पूरा होने की अनुमानित तारिख आदि को भरना होगा. इसके बाद इस फॉर्म को अपने कॉलेज या संसथान से मुहर लगवाना होगा. इसके अलावे आप इस फॉर्म के साथ एक आवेदन देकर कॉलेज के लैटर पेड में भी इस बोनाफाइड सर्टिफिकेट को बनवा सकते हैं जो कि आपको अपने कॉलेज या संसथान की तरफ से जारी होगी.

इसी तरह आप फी रिसिप्ट के फॉर्मेट को भी निकलवा कर उसको संस्थान से मुहर लगवा कर तैयार कर सकते हैं. बता दे कि कॉलेज की मुहर के बाद ही बोनाफाइड सर्टिफिकेट और फी रिसिप्ट मान्य होंगे जिसके बाद इन दोनों डाक्यूमेंट्स को आप पोस्ट मेट्रिक स्कॉलरशिप के लिए ऑनलाइन आवेदन भरते समय अपलोड कर सकते हैं. इसके बाद ही आपका रजिस्ट्रेशन पूरा हो सकेगा और बाद में खाते में पैसे आयेंगे. तो अगर आप भी पात्रता रख रहे हैं और अब तक ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन नहीं करवाया तो आज ही करवाए क्यूंकि अंतिम तारिख 30 सितम्बर 2021 तक ही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here