जानिए, बदलते मौसम के साथ अपने शरीर का कैसे रखें ध्यान

0
44

भारत में ऋतुओं का बहुत महत्व है हर ऋतु की अपनी खासियत है जिसका हमारे जीवन पर सीधा असर पड़ता है. भारत में चार तरह की ऋुतु है. एक ऋतुकाल से दुसरे ऋतुकाल तक जाने में प्राकृतिक बदलाव होता है जिसका सीधा असर हम मनुष्य पर भी पड़ता है. ऐसे में हमें ऋतु परिवर्तन के साथ अपने शरीर का भी खाश ध्यान ऱखना चाहिेए.

ऐसे में हमे जानना चाहिए कि मौसम बदलाव के साथ हम अपने शरीर का किस तरह से बचाव करे. खाश कर डायबिटीज से जुड़े लोगों के लिए काफी खाश है.

डॉक्टर बताते हैं कि अगर आपके खून में ग्लूकोज का स्तर निर्धारित सीमा से अधिक हो जाए तब डायबिटीज होने की आशंका हो सकती है और ये बीमारी शरीर में पैंक्रियाज ग्रंथियों के निष्क्रिय होने पर रोगी को प्रभावित करती है.
डाईबिटिज होने के कई कारण हैं जैसे कि खाने में बदलाव-सर्दियों में ठंढी हवा के कुप्रभाव से बचने के लिए हम अधिक से अधिक मीठे पदार्थों का सेवन करते है जैसे की लड्डू,गुड़ की चक्की ,रेवड़ी आदि और ऐसे पदार्थ वजन बढ़ाने के साथ-साथ शुगर भी बढ़ाते हैं.

नियमित योग न करना-ठंढ के कारणवश हम और आप योगा करना छोड़ देते हैं जो हमे आलसी बनाता है और इस कारण ये हमारे वजन और शुगर दोनों को बढ़ाता है.
इस बीमारी से बचने के लिए अपने आहार में ज़्यादा से ज़्यादा पोषक तत्वों को ग्रहण करें तथा हरी सब्जियों का अधिक सेवन करें. अमरुद, सेब, आंवला आदि फलों को ग्रहण करें और डायबिटीज की दवाओं जैसे इन्सुलिन का भी ध्यान रखें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here