कोरोना ने बचा ली इस राज्य की सरकार

0
280

मध्य प्रदेश (MP) की कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Goverment)  का फ्लोर टेस्ट फिलहाल के लिए टाल दिया गया है. अब तक जो कयास लगाया जा रहा था कि आज यानी की सोमवार को कमलनाथ सरकार को फ्लोर टेस्ट का सामना करना पड़ सकता है इससे उनको छुटकारा मिल गया है. कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को ध्यान में रखते हुए विधानसभा की कार्य़वाही को 26 मार्च तक के लिए स्थगित कर दिया गया है. विधानसभा की शुरुआत राज्यपाल लालजी टंडन (Lalji Tandan) के अपने अभिभाषण में सभी सदस्यों से अपना दायित्व शांतिपूर्ण तरीके से निभाने की अपील की है.

आपको बता दें कि मध्य प्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष एनपी प्रजापति ने कोरोना वायरस (Corona Viurs) को ध्यान में रखते हुए सदने को 26 मार्च तक के लिए स्थगित कर दिया है. इसको लेकर भाजपा ने सदन में जकर हंगामा किया. उन्होंने कांग्रेस (Congress) और कमलनाथ सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार पूरी तरह से डर गई है इसीलिए फ्लोर टेस्ट नहीं कराना चाहती है.

आपको बता दें कि इससे पहले शनिवार को राज्यपाल लाल जी टंडन ने विधानसभा अध्यक्ष से लेटर लिख कर फ्लोर टेस्ट कराने की बात कही थी. लेकिन उसके बाद विधानसभा से रविवार की शाम को सोमवार की कार्यवाही को लेकर लेटर जारी किया गया जिसमें फ्लोर टेस्ट का जिक्र नहीं किया गया था. राज्यपाल ने अपने लेटर में कहा था कि प्रदेश में कमलनाथ की मुझे लग रहा है कि प्रदेश में कमलनाथ की सरकार अल्पमत में आ गई है इसीलिए सदन में फ्लोर टेस्ट होना चाहिए. इस मामले को लेकर जब विधानसभा अध्यक्ष से पुछा गया तो उन्होंने कुछ भी बोलने से मना कर दिया था.

इधर सीएम कमलनाथ ने विधानसभा अध्यक्ष को लेटर लिखकर मांग किया था कि वर्तमान परिस्थिति में फ्लोर टेस्ट कराना अलोकतांत्रिक होगा. उन्होंने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी ने कांग्रेस के विधायकों को बेंगलुरु में बंदी बना लिया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here