नेपाल अपनी हरकतों से नहीं आ रहा है बाज, पहले किया जमीन पर कब्जा, अब किया पानी बंद

0
733

भारत-नेपाल सीमा विवाद सुलझने का नाम ही नहीं ले रहा है. अब बिहार पश्चिम चंपारण के भिखनाठोरी गांव के लोग पानी की समस्या का सामना कर रहे हैं. नेपाल की ओर से आ रहे एक नाले को पिछले डेढ़ महीने से बंद कर दिया है. जिसके बाद से भखनाठोरी के लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. गांव में पानी की व्यवस्था के लिए दो सोलर पंप लगा हुआ है लेकिन इन दोनों ही सोलर पंप से पानी की सप्लाई बंद हैं.

आपको बता दें कि भिखनाठोरी गांव की आवादी तकरीबन 1500 है. यहां कि सबसे बड़ी समस्या है पानी की. यहां पर गांव में दो सोलर पंप लगाए गए हैं. जिसमें से एक पंप पंचायती राज विभाग द्वारा लगाया गया है तो वहीं दूसरा पंप पीएचईडी विभाग द्वारा लगाया गया है. पंचायती राज विभाग द्वारा लगाया गया पंप पिछले छः महीने से खराब पड़ा है तो वहीं पीएचईडी द्वारा लगाया गया पंप आसमान में बादल छाए रहने के कारण नहीं चल पा रहा है. जिससे लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. अब ग्रामीण कुछ दुरी पर स्थित पंडई नदी से पानी लाने को मजबूर हैं और उस पानी को उबालकर पी रहे हैं.

इस पूरे मामले को लेकर कृष्णमोहन कुमार ने बताया कि नेपाल की ओर से बंद नाला अभी तक खुलवाया नहीं जा सका है. उसके पानी से सिंचाई के अलावा बर्तन व कपड़ा धोने का काम होता था. अब नई समस्या खड़ी हो गई है. मोतीलाल पासवान ने बताया कि पीएचईडी के अधिकारियों को सूचित किया गया है, लेकिन कोई व्यवस्था नहीं हुई.

इधर, पीएचईडी के कार्यपालक अभियंता राजेश कुमार सिन्हा ने बताया कि बरसात के मौसम में आकाश में बादल रहने से सोलर पैनल की शक्ति कम हो जाती है. बरसात के दिनों में टैंकर से पानी सप्लाई का आदेश नहीं है. लेकिन, समस्या देखते हुए सप्लाई पर विचार किया जा रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here