जेल में बंद पुराने राजपूत नेता से राजद के ब्राह्मण नेता की मुलाकात

राष्ट्रीय जनता दल के प्रमुख लालू प्रसाद यादव भले हीं जेल में बंद हो लेकिन उनकी पार्टी के दूसरे पंक्ति के नेता पार्टी के विस्तार में जुटे हुए हैं.

कभी बिहार के राजपूतों के आइकाॅन रहें जेल में बंद पूर्व सांसद आनंद मोहन से मिलने राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और पूर्व सांसद शिवानंद तिवारी मिलने सहरसा जेल पहुंचें.

दोनों पूर्व नेताओं के बीच काफी देर तक मुलाकात चली. जेल प्रशासन के मुताबिक करीब 01 घंटे तक दोनों के बीच राजनीतिक चर्चा हुई.

जेल से बाहार निकल कर शिवानंद तिवारी ने कहा कि आनंद मोहन को फंसाया गया है. आनंद मोहन एक अच्छे आदमी हैं.
मालूम हो कि आनंद मोहन को गोपालगंज के पूर्व डीएम जी कृष्णैया हत्याकांड में उम्र कैद की सजा सुनाई गई है जिसपर सुप्रीम कोर्ट ने भी मुहर लगा दी है.

एक दौर में आनंद मोहन और उनकी पत्नी लवली आनंद दोनों ने लोकसभा का चुनाव जीतकर बिहार की सियासत में सबको हैरत में डाल दिया था.

आनंद मोहन की ने एक पार्टी का भी गठन किया था जिसका नाम था बिहार पीपुल्स  पार्टी

राजनीतिक विश्लेषकों के अनुसार राजद आनंद मोहन के बहाने फाॅरवर्ड और विशेषकर राजपूत मतदाताओं के करीब जाने की जुगत में है. शिवानंद तिवारी की इस मुलाकात की टाइमिंग के भी अपने मायने है. बिहार में पद्मावत फिल्म के रिलीजिंग को लेकर नीतीश सरकार के स्टैंड से स्थानीय राजपूत समुदाय में असंतोष है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here