जानिए आखिर क्यों बिहार से ही होते है सबसे ज्यादा IAS , यह है सबसे बड़ा कारण

0
650

आज बिहार के बच्चे पूरे देश भर में अपने राज्य का नाम रोशन कर रहे है। देश को सबसे ज्यादा आईएएस देने वाला अगर कोई राज्य है तो वो है बिहार । आज पूरे देश भर में बिहार ने 125 IAS officers दिए है। ऐसी धारणाएं बनाई जा रही थी कि अब बिहार से सिविल सर्विस में भागीदारी घटेगी लेकिन बिहार के मेधावी बच्चों ने लोगों की इस धारणा को भी गलत साबित कर दिया और लगातार बिहार से सिविल सर्विस में अभ्यर्थियों की संख्या बढती जा रही है।

एक रिकॉर्ड के मुताबिक ऐसा देखा गया है कि पिछले 20 वर्षों में बिहार से आईएएस अधिकारियों की संख्या और बढती ही जा रही है। पूरे देश में लगभग 9.38 प्रतिशत के साथ बिहार टॉप Rankers के मामले में दूसरे नंबर पर कई सालों से बना हुआ है। भारत की सबसे कठिन परीक्षा UPSC की सिविल सर्विस परीक्षा में जो टॉप Rankers होते है वही आईएएस बनते है।

केंद्र के 52 में से 7 विभाग के सचिव बिहार से है और राज्य स्तर के 42 आईएएस केंद्रीय नियुक्ति पर है। एक्सपर्ट का कहना है कि 2011 में सीसैट पैटर्न लागू किया गया था जिसमे अंग्रेजी को अनिवार्य कर दिया गया था जिस कारण से बिहारी अभ्यार्थियों को थोड़ी मुश्किलों का सामना करना पड़ा जिसके कारण उनकी संख्या थोड़ी घट गयी थी पर अब सीसैट पैटर्न को क्वालीफाइंग कर लिया गया है।

बिहार के आईएएस केंद्र में बहुत सारे महत्वपूर्ण पदों को संभल रहे है जिनमे सबसे प्रमुख है ग्रामीण विभाग में है। स्वास्थ और संस्कृति जैसे भी प्रमुख विभाग का दायित्वा बिहार के ही आईएएस संभाल रहे है।

बिहार से सबसे ज्यादा IAS होने का कारन यह है कि यहाँ के लोग बहुत मेहनती होते है और पैसे का आभाव होने के कारण लोग प्राइवेट सेक्टर के बजाय सरकारी सेक्टर में काम करना ज्यादा पसंद करते है।यहाँ के लोगों का देश के लिए कुछ कर गुजरने का जज्बा भी कम नहीं इसलिए लोग सिविल सर्विस के ज़रिये देश की सेवा करना चाहते है।

  • 146
  •  
  •  
  •  
  •  
    146
    Shares
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here