जदयू को झटका: जदयू प्रत्याशी अनिल सिंह यादव सहित दर्जन भर नेताओं ने छोड़ी पार्टी

0
1365

पिछले कुछ दिनों से जदयू के नेता लगातार पार्टी छोड़कर जाने में लगे हुए है और ये सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। बिहार के सासाराम में एक बार फिर जदयू नेताओं ने जदयू से नाता तोड़ लिया है। विधानपरिषद चुनाव में सासाराम के जदयू उम्मीदवार रहे अनिल सिंह यादव ने जदयू छोड़ बहुजन समाज पार्टी का दामन थाम लिया। वहीँ दर्जन भर जदयू नेताओं ने गुरुवार को पार्टी छोड़ जनतांत्रिक विकास पार्टी में शामिल हो गए।

पूर्व जदयू नेता अनिल सिंह यादव ने बसपा में शामिल होते ही जदयू के खिलाफ बोलना और आरोप लगाना शुरू कर दिया है। उन्होंने जदयू पर आरोप लगाते हुए कहा कि जदयू भाजपा के इशारे पर काम कर रही है। उन्होंने कहा कि देश में दलितों, पिछड़ों, गरीबों और आम जनों की आवाज सत्ता में बैठे लोग नहीं सुन रहे है। उन्होंने आगे कहा कि अब जदयू भाजपा के इशारो पर काम कर रही है और भाजपा के जनविरोधी कार्यों में भी जदयू की भागीदारी हो गई है। अनिल सिंह यादव ने कहा कि मैंने बसपा की सदस्यता इसलिए लिया क्योकि बहन मायावती देश की गरीब और प्रताड़ि़त जनता की आवाज सुनने वाली नेता है।

जदयू से बसपा में आने पर अनिल सिंह यादव का राष्‍ट्रीय महासचिव राम अचल राजभर अभिनन्दन किया और कहा कि बहन मायावती को देशभर में सभी वर्गों का समर्थन मिल रहा है. देश के हर वर्ग के लोगों के मन में बहन मायावती की नीतियों में आस्‍था हैं. उन्होंने आगे कहा कि विधान परिषद के चुनाव में बेहद कम अंतर से पराजित होने वाले अनिल सिंह यादव ने अपने साथ सैंकड़ो कार्यकर्ताओ को पार्टी के साथ जोड़ा है और बहन मायावती के साथ चलने को तैयार हुए है। बता दे कि बहुजन समाज पार्टी इस बार बिहार के सभी 40 विधानसभा सीटों पर अपना उम्मीदवार खड़ा करेगी। जदयू से बसपा में आये अनिल सिंह यादव को काराकाट लोकसभा क्षेत्र का प्रभार दिया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here