बिहार में इतनी शिक्षकों की होने जा रही है बहाली, जल्द करें आवेदन

0
2236

सरकारी नौकरी की खोज करने वालों को बिहार सरकार के तरफ से अच्छी खबर मिलने वाली है। सर्वोच्च न्यायालय का निर्णय आने के बाद बिहार के हाई स्कूलों में 20,000 शिक्षकों की भर्ती होगी। इसके लिए शिक्षा विभाग ने तैयारी शुरू कर दिया है। हाई स्कूल और प्लस-2 के स्कूलों में सारे शिक्षक नियुक्त होंगे। सामान काम के बदले सामान वेतन के मामले में सर्वोच्च न्यायालय का निर्णय आने के बाद शिक्षा विभाग नए सिरे से जिलों से जल्द ही उछत्तम माध्यमिक स्कूलों में विषयवार शिक्षकों की मांग करेगा। सारे जिलों से रिक्ति आने पर यह तादाद 20,000 से ज्यादा हो सकती है। गणित विज्ञान अंग्रेजी, संस्कृत और हिंदी समेत अलग-अलग विषयों के शिक्षकों की जिलों से आने के बाद पद वर्ग समिति को भेजा जाएगा।

ऐसा माना जा रहा है कि इस मर्तबा नियोजन इकाई से भर्ती के बजाय केंद्रीय कृत तरीके से भर्ती हो। क्योंकि शिक्षक दिवस पर सीएम ने की केंद्रीयकृत तरीके से प्रक्रिया पूरी करने की बात बताई थी। विद्यालय शिक्षक चयन आयोग के माध्यम से भी भर्ती हो सकती है। विश्वविद्यालयों में शिक्षक नियुक्ति सेवा आयोग का गठन किया जा रहा है, उसी प्रकार विद्यालय शिक्षक चयन की बात हो रही है। गणित एवं विज्ञान की कमी दूर करने के लिए B.tech डिग्री धारी इंजीनियर को शिक्षक बनाने पर विचार-विमर्श हो रहा है। शिक्षक बनाने के लिए B.tech के साथ M.sc डिग्री धारी को ख़ास छूट दिया जा सकता है।

बिहार के 6000 माध्यमिक एवं उच्चतर माध्यमिक विद्यालय हैं। मध्य विद्यालय को उत्क्रमित कर बने हाई स्कूलों में शिक्षकों की भारी कमी है। इन विद्यालयों में मध्य विद्यालय के B.sc एवं उससे ज्यादा डिग्री धारी शिक्षकों से पढाई की व्यवस्था की गई है। लेकिन इनकी तादाद काफी कम है। साल 2017 में प्राथमिक विद्यालयों में शिक्षकों की नियुक्ति के लिए हाल में बिहार विद्यालय परीक्षा समिति (BSEB) ने शिक्षक पात्रता परीक्षा (TET) लिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here