प्रशासन के दिन-रात मेहनत के बाद बदले घाटों की सूरत

0
547

छठ पर्व के लिए जेपी सेतु के पश्चिम में लगभग 1 किलोमीटर की दूरी में जनार्दन घाट, मीनार घाट, शिवाघाट, पाटीपुल घाट निर्मित किया जा रहा है. इन घाटों की 70% तैयारी की जा चुकी है। वॉच टावर के साथ पार्किंग, चेजिंग के लिए बह जगह को निर्धारित किया जा चुका है. पानी में बल्ला लगाने का भी कार्य आरम्भ हो चुका है. सेतु के पूर्व में 93 नंबर घाट, 88 नंबर घाट, 83 नंबर घाट है। इन घाटों की भी तैयारी एप्रोच रोड बनने के साथ 60% तक पूरी की जा चुकी है.

प्रशासन की ओर से भी 18 घण्टे तक का कार्य आरम्भ है. घाट के किनारे रखा जाने वाला स्लैब बीएसआरडीसी द्वारा हटा दिया गया है. रास्ते से गाद को हटाने के बाद बालू बिछाकर एप्रोच रोड बनाया जा रहा है. वहीँ घाट के किनारे-किनारे वॉच टावर, चेंजिग रूम, कंट्रोल रूम के साथ पानी के अंदर बल्ला भी लगाए जाने की व्यवस्था की जा रही है. यहां मुख्य एप्रोच रोड के पश्चिम दो एप्रोच रोड भी बनाए जा रहे हैं। जेपी सेतु से सटे हुए ठीक पूरब एक और चिमनी के पास से एक एप्रोच रोड निर्मित किया जा रहा है.


छठ घाटों के 21 सेक्टर को चार भागों में बांटा जायेगा जिसकी निगरानी नियंत्रण कक्ष से की जाएगी। इसके प्रभारी पदाधिकारी जिला प्रशासन के पीजीआरओ सुधीर कुमार और अपर नगर आयुक्त देवेंद्र तिवारी नियुक्त किया गया हैं. नियंत्रण कक्ष से प्राप्त होने वाली सूचनाओं को सम्बंधित पदाधिकारियों को दिया जाएग। अन्य सूचनओं को भी सम्ब्नधित पदाधिकारियों को निष्पादन करने के लिए दिया जायेगा। गौरतलब है कि मंगलवार को समीक्षा बैठक के बाद प्रमंडलीय आयुक्त द्वारा विशेष नियंत्रण कक्ष स्थापित करने का निर्देश विशिष्ट अनुभाजन पदाधिकारी को दे दिया है।

उन्होंने कहा है कि छठ घाट पर चलने वाली तैयरियों की प्रत्येक दिन शाम में 6 बजे समीक्षा की जाती है. घाटों के नाम के साथ फ्लैक्स लगाने, सफाई करने, अनुपयोगी घाट पर लाल कपड़ा लगाने का निर्देश सभी सेक्टर प्रभारी को दिया जाता है. वहीँ खतरनाक घाट की पहचान कर उसे बंद किये जाने का भी निर्देश सिंचाई विभाग के अधीक्षण अभियंता और नगर निगम आयुक्त को दिया गया है. इस मौके पर डीएम कुमार रवि, नगर आयुक्त अमित कुमार पांडेय, ट्रैफिक एसपी डी अमरकेश, अपर नगर आयुक्त शीला ईरानी सहित सभी संबंधित विभागों के वरीय पदाधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here