अगले महीने से बिहार विधानसभा चुनाव में सक्रिय हो जाएंगे कन्हैया कुमार, CPI को बड़ी उम्मीद

0
361

बिहार विधानसभा चुनाव की लेकर सभी राजनीतिक पार्टियों ने कमर कस लिया है. भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी अब बिहार में विधानसभा चुनाव को लेकर मैदान में उतरने की तैयारी कर ली है. बिहार की कम्युनिस्ट पार्टी जवाहर लाल नेहरु के पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार के भरोसे बिहार में चुनाव मैदान में उतरने की बात कह रही है. इधर सीपीआई बिहार महागठबंधन के साथ शामिल होने का मन बना रही है. लेकिन इसमें अभी कई अड़चन सामने आ रही है.

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी CPI के प्रदेश सचिव सत्यनारायण सिंह ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि कन्हैया कुमार विधानसभा चुनाव प्रचार में अहम रोल निभायेंगे. सीपीआई के प्रदेश सचिव ने कहा कि कन्हैया कुमार युवाओं के बीच सबसे लोकप्रिय नेता हैं. बिहार में महागठबंधन को ये हकीकत समझनी होगी. सीपीआई के प्रदेश सचिव ने कहा कि कन्हैया कुमार युवाओं में सबसे ज्यादा लोकप्रिय हैं और वे बड़ी तादाद में वोटरों को गोलबंद कर सकते हैं. हम मानते हैं कि सिर्फ सीपीआई ही नहीं बल्कि जिस भी पार्टी से हमारा गठबंधन होगा उसे कन्हैया कुमार से बड़ा फायदा होने जा रहा है. कन्हैया कुमार को चुनावी मैदान में उतारने की तैयारी पूरी हो चुकी है. अगस्त में बिहार आ रहे हैं.

कभी बिहार में सीपीआई के विधायक जीत कर सदन में पहुंचते थे लेकिन लालू यादव के राजनीति में सक्रिय होने के बाद से बिहार में सीपीआई और कांग्रेस का सबस ज्यादा नुकसान हुआ है. ऐसे में कन्हैया कुमार का महागठबंधन में कितनी तरजीह मिल पाएगी यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा. वहीं अगर हम 2019 लोकसभा चुनाव की बात करे तो बेगूसराय लोकसभा सीट पर कन्हैया कुमार की सीधी टक्कर बीजेपी के गिरिराज सिंह से थी जिसमें कन्हैया कुमार को हार का सामना करना पड़ा था. इस चुनाव में भी महागठबंधन के खिलाफ अपने उम्मीदवार उतार दिए थे. राजनीतिक विश्लेषक यह मानते हैं कि राजद अगर अपने उम्मीदवार की घोषणा नहीं किए होते तो परिस्थिति कुछ और होती. वहीं राजनीतिक विश्लेषक यह भी मानते हैं कि महागठबंधन में राजद कभी भी सीपीआई को न तो मन मुताबिक सीट दे सकता है और न ही कन्हैया कुमार को आगे बढ़ने का मौका. ऐसे में इस विधानससभा चुनाव में कन्हैया कुमार और सीपीआई दोनों के लिए एक कठीन चुनौती होगी कि वह इस विधानसभा चुनाव को किस तरह से अपने विधायको को जीत की दहलीज तक पहुंचा पाते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here