कुछ हज़ार रुपये लगाकर कमा सकते हैं लाखों का फायदा, जानिए कैसे

0
1687

आजकल के प्रतियोगिता के दौर में रोज़गार मिलना बहुत मुश्किल काम हो गया है और उसपर से भी मुश्किल है सरकारी नौकरी मिलना। कुछ लोग अपना नया बिज़नेस शुरू करने की सोचते है। आज हम आपके लिए बिज़नेस के कुछ ऐसे आईडिया लेकर आये हैं जिसमे काम लागत में अधिक मुनाफा होने का चांस हो सकता है। और अगर बिज़नेस नेचुरल चीज़ों का हो तो लोग उसपर ज़्यादा भरोसा करते हैं और वो लम्बे समय तक चल भी सकता है।

नैचुरल प्रोडक्ट और मेडिसीन का बाजार इतना बड़ा है कि इसमें लगने वाले नैचुरल प्रोडक्ट्स हमेशा मांग में रहते हैं, तो क्यों ना मेडिसिनल प्लांट की खेती के बिजनेस में हाथ आजमाया जाए. इसमें लागत तो कम है ही और लंबे समय तक कमाई भी सुनिश्चित होती है। औषधि वाले पौधे में ज़्यादा इन्वेस्टमेंट करने की भी ज़रुरत नहीं होती और आराम से बिज़नेस किया जा सकता है। इसे आप कॉन्ट्रैक्ट पर भी ले सकते हैं. आजकल कई कंपनियां कॉन्ट्रैक्ट पर औषधियों की खेती करा रही है. इनकी खेती शुरू करने के लिए आपको कुछ हजार रुपए ही खर्च करने की जरूरत है, लेकिन कमाई लाखों में होती है।

हर्बल प्‍लांट जैसे तुलसी, आर्टीमीसिया एन्‍नुआ, मुलैठी, एलोवेरा आदि बहुत कम समय में तैयार हो जाते हैं। बात करते हैं तुलसी के पौधे की तो हिन्दू धर्म में इसे धार्मिक पौधे की तरह देखा जाता है और इसकी पूजा की जाती है लेकिन आपको बता दें कि इसमें बहुत अधिक मात्रा में औषधि के गुण भी होते हैं। तुलसी की खेती से कमाई की जा सकती है. तुलसी के कई प्रकार होते हैं, जिनसे यूजीनोल और मिथाईल सिनामेट होता है. इनके इस्‍तेमाल से कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों की दवाएं बनाई जाती हैं. 1 हेक्‍टेयर पर तुलसी उगाने में केवल 15 हजार रुपए खर्च होते हैं लेकिन, 3 महीने बाद ही यह फसल लगभग 3 लाख रुपए तक बिक जाती है.

कई बड़ी बड़ी कंपनियां जैसे डाबर, पतंजलि कॉन्ट्रैक्ट देकर तुलसी के पौधे की खेती कराती है। तुलसी के बीज और तेल का बड़ा बाजार है. हर दिन नए रेट पर तेल और तुलसी बीज बेचे जाते हैं। बस ज़रुरत है तो अच्छे ट्रेनिंग की ताकि भविष्य में अगर आप इस व्यापर को बड़ा रूप देना चाहते है तो आगे धोखा न मिले। इसके लिए लखनऊ में सेंट्रल इंस्‍टीट्यूट ऑफ मेडिसिनल एंड एरोमैटिक प्‍लांट (सीमैप) में इन पौधों से जुड़ी जानकारी और ट्रेनिंग दी जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here