लालू से मिलने गए मांझी को आया गुस्सा , प्रशासन पर लगाया ये गंभीर आरोप

0
675

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी मंगलवार को रांची के होटवार जेल पहुंचे जहाँ चारा घोटाला के आरोपी राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद बंद है। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व राजद प्रमुख लालू प्रसाद से मिलने पहुंचे जीतन राम मांझी को उस वक्त निराशा हाथ लगी जब उन जेल से बाहर रोक दिया गया और लालू प्रसाद से नहीं मिलने दिया गया।

 

काफी प्रयास के बावजूद भी जब मांझी को लालू से नहीं मिलने दिया गया तब अंततः माँझी को निराश लौटना पड़ा। पत्रकारों से बातचीत के क्रम में मांझी ने इस घटना के लिए भाजपा पर दोष मढ़ा और कहा कि ‘भाजपा शाषित राज्य झारखण्ड में सरकार नहीं चाहती कि हम लालू जी से मिले। ‘

बता दे कि बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी मंगलवार को रांची के होतवार जेल पहुंचे परन्तु जेल मैनुअल का हवाला देकर लालू से मिलने नहीं दिया गया। इस बात से नाराज मांझी ने प्रशासन पर आरोप लगाया और मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि ‘मैं जैसे ही जेल के निकट पहुंचा तभी एक डीएसपी को कहते हुए सुना गया है कि जीतन राम मांझी जो बिहार के पूर्व सीएम है उन्हें लालू से किसी भी हाल में नहीं मिलने देना है।’

मांझी ने आगे कहा कि ‘मैंने इस मामले में जब डीजीपी और आईजी रैंकि के अधिकारियों से बात किया तो उनलोगों ने भी जेल मैनुअल का बहाना बना कर मुझे लालू जी से ही मिलने दिया।’ मांझी ने जेल व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए कहा कि ‘ये कैसा मैनुअल है भाई ,जो कोई व्यक्ति किसी का कुशल क्षेम भी नहीं पूछ सकता,ये अंग्रेजों का बनाना हुआ मैनुअल है जिसे हम आज तक ढो रहे है ।

उन्होंने झारखण्ड सरकार पर सवाल उठाते हुए कहा कि ‘इस भाजपा शासित राज्य में मुझे लालू जी से नहीं मिलने दिया जा रहा है ,भाजपा वाले नहीं चाहते कि हम लालू जी से मिल सके। मांझी ने इस घटना पर निराशा व्यक्त करते हुए कहा कि मई बहुत निराश हूँ कि मुझे लालू जी से नहीं मिलने दिया गया है।’

  • 962
  •  
  •  
  •  
  •  
    962
    Shares
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here