लिट्टी चोखा के साथ: पुष्पम प्रिया का नीतीश सरकार पर साढ़े साती प्रहार

0
481

प्लूरल्स पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष पुष्पम प्रिया चौधरी ने अपने फेसबुक पोस्ट के माध्यम से नीतीश सरकार पर करारा प्रहार किया है. कोरोना वायरस का फैलने से रोकने के लिए बिहार सरकार ने 31 मार्च तक बिहार के स्कूलों को बंद रखने का निर्देश दिया है. इसी कड़ी में बिहार सरकार के एक फैसले ने विरोधियों को नीतीश सरकार पर हमला बोलने का एक मौका और दे दिया है.

Image result for chaudhri pushpam

दरअसल नीतीश सरकार ने स्कूल बंद होने पर एक दिन के मिड डे मिल के एवज में भूखे बच्चे के परिजनों को साढ़े सात रुपये प्रतिदिन के हिसाब से देना तय किया है. इसी को लेकर पुष्पम प्रिया सरकार पर नाराज हैं. उनका कहना है कि सरकार ही बता दें कि आज की तारीख में साढ़े सात रुपये में आखिर कौन सा भोजन या फिर कौन सा पौष्टिक पदार्थ मिल सकता है !

Image result for chaudhri pushpam nitish
पुष्पम ने अपने फेसबुक पोस्ट पर सीधे सीधे नीतीश सरकार की समझ पर ही सवाल उठा दिया है. पुष्पम ने कहा कि 15 साल के तथाकथित सुशासन में संस्थाओं के निर्माण पर कोई काम नही नहीं हुआ है. दुनिया के दूसरे देशों में और देश के ही केरल जैसे राज्यों में मिड डे मिल का काम कैटरिंग कंपनियों को देकर युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराया गया है जबकि बिहार में नीतीश कुमार की सरकार ने शिक्षकों को ही मिड डे मिल परोसन में झोंक दिया है.

लिट्टी चोखा की तस्वीर पोस्ट करते हुए पुष्पम ने लिखा है कि फुल प्लेट बनाम साढे सात रुपये के भोजन का बेबस ़द्वंद्व. इसके साथ ही पुष्पम ने हैशटैग भी दिया है, साढ़े साती सरकार.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here