लोजपा-जदयू में 20 विधानसभा सीटों के लिए मचा है घमासान, जदयू ने दिया दो टूक जवाब

0
423

एनडीए में जदयू और लोजपा के बीच सुलगी चिंगारी अब बढ़ती जा रही है। अब तक जदयू और लोजपा के बीच हुए मतभेद को कोल्ड वार का नाम दिया जा रहा था लेकिन अब ऐसा नहीं है मामला बढ़ चुका है और दोनों के बीच यह विवाद तेज पकड़ रहा है.
लोजपा प्रमुख के बयान सीएम नीतीश के जनाधार को चुनौती देने वाली आई थी जिसपर जदयू ने भी साफ कर दिया है. जदयू ने सीट बंटवारे को लेकर लोजपा से साफ कह दिया है कि वह लोजपा से बात नहीं करेगी।
दिल्ली में जदयू सांसद ललन सिंह और आरसीपी सिंह ने भूपेंद्र यादव से बात की और कहा कि सीट को लेकर भाजपा लोजपा से बात करें और बात नहीं करेगी। लोजपा प्रमुख का सीएम नीतीश को लेकर बयानबाजी से जदयू रुष्ट है और सीट शेयरिंग पर मामला उलझा हुआ है।

साल 2015 के चुनाव में 20 ऐसी विधानसभा सीट रही है जिसपर जदयू और लोजपा में टक्कर हुआ था और जदयू लोजपा प्रत्याशी को शिकस्त दी दी थी। यह सीट जदयू के लिए महत्वपूर्ण सीट है। वहीँ लोजपा की बात करें तो इसके अलावा भी कई ऐसी सीटें हैं जिसे लोजपा लेना चाहती है और जदयू किसी भी हाल में अपने महत्वपूर्ण या सेफ सीट से समझौता करने को तैयार नहीं है। इस बाबत जदयू ने स्पस्ट रूप से लोजपा को बायकॉट करने का मन बना लिया है।

लोजपा एनडीए में रखकर नीतीश कुमार के खिलाफ में बयानबाजी कर रहा है और इन मुद्दों पर लोजपा की दलील हैं कि वह उन्ही मुद्दों को उठा रहा है जो सही है। बिहार जिस क्षेत्र में पिछड़ा है या जहाँ विकास नहीं हुए हैं उन्ही मुद्दों और जरूरतों को लोजपा उठा रहा है। इससे विपरीत भाजपा ने ऐसे बयानबाजी पर आपत्ति जताये हुए कहा है कि एनडीए में रहकर इस तरह का बयान सही नहीं है और यह एनडीए के धर्म के खिलाफ जाता है।

20 महत्वपूर्ण सीटों की बात करें जिसपर जदयू लोजपा पर भारी पड़ी थी तो वह इस तरह है – कल्याणपुर, बेलदौर, सिमरी बख्तियारपुर, बेलसंड, बड़हरिया, ठाकुरगंज, अस्थामा, बाबूबरही, वारिसनगर, त्रिवेणीगंज, हायाघाट, आलमनगर, रफीगंज, कुशेश्वर स्थान, नाथनगर, गौरा बौराम, , कुचायकोट, चेरिया बरियारपुर, जमालपुर, हरनौत और शामिल है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here