विधानसभा चुनाव को लेकर LJP ने कसी कमर, उम्मीदवारों के नाम तय करने में जुटी पार्टी

0
68

बिहार में विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक तेज हो गई है. राजनीतिक पार्टियों में सीटों और उम्मीदवारों के चेहरे को लेकर हलचल तेज हो गई है. बिहार एनडीए के साथी लोजपा ने उम्मीदवारों के नामों को लेकर खिंचतान शुरू कर दी है. बताया जा रहा है कि पार्टी 92 विधानसभा सीटों पर उम्मीदवारों के नामों की अंतिम सूची लगभग तय मानी जा रही है. बताया जा रहा है कि लोजपा को यह उम्मीद है कि पिछले विधानसभा चुनाव फार्मूले के हिसाब से इस बार सीटों का बंटवारा होगा.

आपको बता दें कि पिछले विधानसभा चुनाव में लोजपा को 42 सीटें मिली थी. उस समय जो फार्मूला सेट हुआ था उसमें 2014 लोकसभा में जीते हुए सीटों केहिसाब से विधानसभा की सीटें तय की गई थी. इसका मतलब यह हुआ कि 2014 लोकसभा चुनाव में लोजपा 7 सीटों पर जीत दर्ज की थी. इसके हिसाब से लोजपा को 42 सीटें मिली थी. अगर इस साल 2019 लोकसभा के हिसाब से सीटों का बंटवारा हुआ तो लोजपा का काफी नुकसान उठाना पड़ सकता है. इस हिसाब से लोजपा के खाते में मात्र 36 सीटें ही आएंगी. इधर लोजपा नेता राज्यसभा की भी एक सीट को उसी खाते में जोड़ रहे है इस लिहाज से लोजपा के पास फिर से 42 सीटें मिलने चाहिए लेकिन लोजपा इस समय 92 सीटों पर अपने उम्मीदवारों के नामों की लिस्ट बना रही है.

लोजपा प्रमुख चिराग पासवान ने एक क्राइटेरिया बना रखा है. जो इस क्राइटेरिया को पार कर रहे हैं उन्हें ही इस बार विधानसभा चुनाव में टिकट मिलने की उम्मीद बताई जा रही है. अब मिली जानकारी के अऩुसार पार्टी के पास 92 उम्मीदवारों केनामों की लिस्ट तैयार हो गई है जो इस क्राइटेरिया को पार कर चुके हैं. जानिए क्या है क्राइटेरिया. जो उम्मीदवार बनना चाहते हैं उनको कम से कम 25 हजार सदस्य पार्टी के लिए बनाना होगा. इसके अलावा अपने क्षेत्र के सभी बूथों पर कमेटी बनानी होगी. साथ ही हर बूथ की समस्या को लिखित रूप से पार्टी को बताना होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here