LJP ने चुनाव आयोग को लिखा चिट्ठी, कहा बिहार कोरोना और बाढ़ से प्रभावित हैं अभी न कराएं चुनाव

0
241

बिहार में विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीति तेज हो गयी है. प्रदेश इस समय कोरोना और बाढ़ की मार झेल रहा है. इधर विपक्षी पार्टियां लगातार सरकार को तय समय पर चुनाव कराने का विरोध कर रही है. इसी बीच बीजेपी की सहयोगी लोक जनशक्ति पार्टी ने चुनाव आयोग को पत्र लिखकर कहा है कि राज्य में अक्टूबर-नवंबर के महीने में कोरोना के अधिक गंभीर होने की आशंका है. ऐसे में उस समय चुनाव कराने से लोगों का जीवन खतरे में पड़ जाएगा.

चुनाव आयोग को लिखे पत्र में पार्टी ने कहा है कि फिलहाल संसाधनों का इस्तेमाल कोरोना संकट पर अंकुश लगाने और बाढ़ से निपटने के लिए करना चाहिए. एलजेपी का कहना है कि अभी चुनाव पर ध्यान केंद्रित करने का समय नहीं है. पार्टी ने कहा कि कोरोना वायरस महामारी ने पहले ही खतरनाक रूप धारण कर लिया है. विशेषज्ञों का मानना है कि अक्टूबर-नवंबर तक राज्य में कोरोना की स्थिति गंभीर हो सकती है. ऐसे में हमारा मानना है कि चुनाव की जगह प्राथमिकता लोगों के जीवन को बचाने की होनी चाहिए.

चुनाव आयोग को लिखे पत्र में एलजेपी ने कहा है कि एक बड़ी आबादी के जीवन को खतरे में डालकर चुनाव कराना बिल्कुल अनुचित होगा. देश में कोरोना से 35 हजार से अधिक और बिहार में 280 लोगों की मौत हो चुकी है. ऐसी स्थिति में चुनाव कराना लोगों को जान बूझकर मौत की तरफ धकेलने जैसा होगा. पार्टी ने यह भी कहा है कि राज्य का एक बड़ा हिस्सा फिलहाल बाढ़ से बुरी तरह प्रभावित है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here