सावधान: मैगी खाना हो सकता है जानलेवा, एक साथ इतनी बीमारियों का है कारण

0
258

मैगी जो इंटरनेशनल मार्किट में बहुत मशहूर है इसके अलावा बच्चों से लेकर बूढ़ों तक सबका मनपसंद है, आपको जानकार हैरानी होगी कि ये स्वास्थ के लिए बहुत हानिकारक है। इसमें कई ऐसे हानिकारक केमिकल पाए जाते है जो हमारे शरीर को न केवल शारीरिक बल्कि मानसिक रूप से भी नुकसान पहुँचा सकते है और इस बात को खुद कंपनी ने सुप्रीम कोर्ट ने स्वीकार भी किया है।

मैगी में लेड और एमएसजी की मात्रा पायी जाती है जो हमारे शरीर के लिए जानलेवा तक साबित हो सकती है। लेड एक ऐसा केमिकल है जिसकी ज़रुरत हमारे शरीर में नहीं होती और न ही हमारा शरीर लेड बनाता है। लेड हमारे शरीर में मिलावट वाला खाना खाने से, गन्दा पानी पीने से या प्रदुषण से आ जाता है। यदि शरीर में इसकी मात्रा जरूरत से ज्यादा बढ़ जाए तो यह लिवर, मस्तिष्क, किडनी और हड्डियों को नुकसान पहुंचाना शुरू करता है। लिवर खराब करने के बाद यह डाइजेशन सिस्टम को खराब करता है। गर्भवती महिलाओं में गर्भपात, प्रिमिच्योर डिलीवरी, बच्चे का वजन कम होना जैसी समस्याएं इससे जुड़ी हुई हैं। इसके अलावा बच्चों में मानसिक विकलांगता, आईक्यू कम होना, पढ़ाई में दिक्कत होना, कम ध्यान देना, व्यवहार में परेशानी, न्यूरोलॉजिकल दिक्कतें, ब्‍लड सर्कुलेशन आदि भी लेड से संबंधित रोग हैं।

Loading...

मैगी में एक और खतरनाक केमिकल पाया जाता है और वो है एमएसजी यानि मोनोसोडियम ग्‍लूटामेट। ज़्यादातर यह चाइनीज़ खाने में पाया जाता है। यह वास्तव में धीमा जहर है जो खाने का स्वाद नहीं बढ़ाता बल्कि हमारी स्वाद ग्रन्थियों के कार्य को दबा देता है जिससे हमें खाने के बुरे स्वाद का पता नहीं लगता। सामान्‍यतया इसका प्रयोग खाद्-पदार्थों की घटिया गुणवत्ता को छिपाने के लिए किया जाता है। इसके अधिक सेवन से सिरदर्द, पसीना आना और चक्कर आने जैसी समस्‍यायें हो सकती हैं। अगर आप इसके आदी हो चुके हैं और खाने में इसको बहुत प्रयोग करते हैं तो यह आपके दिमाग को भी नुकसान कर सकता है। यह बच्‍चों के विकास को अवरोधित कर सकता है।

Source :- Onlymyhealth ( किसी भी तरह के शोध के लिए या उपयुक्त खबर में दी गयी जानकरी के लिए Bihari News जवाबदेह नहीं है, यह खबर Onlymyhealth पर आधारित है )

 

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here