पत्नी ने शादी के 10 दिन के बाद पति से कहा- मैं आपसे नहीं प्रियंका से करती हूं प्यार

0
699

प्रेम को लेकर आपने की कहानीयां सुनी होंगी. आपने कई किस्से सुने होंगे. लेकिन यह एक अजीब दास्ता है. इन प्रेमी जोड़ो की. यह पूरी घटना बिहार के बेगूसराय की है. जहां एक युवकी के बाद से यह मामला सामने आया है. जिसमें एक लड़की ने दूसरी लड़की को अपनी प्रेमिका बता कर उससे शादी कर ली. लेकिन घऱ बालों ने जबरन उस लड़की की शादी एक लड़के से कर दी. फिर क्या था जिस लड़की से पहले शादी हुई थी वह पहुंच गई अपनी प्रेमिका के ससुराल. इसके बाद यह पूरा मामला पहुंच गया नगर थाने में. जहां दोनों लड़कियों को थाने में ले जाया गया. वहां पुलिस इस पूरे मामले को लेकर कानूनी प्रावधानों को खोज रही है. पुलिस इस पूरे मामले को लेकर सोच रही है इनपर किस तरह की धारा लगेगी.

यह पूरी घटना किसी फिल्मी कहानी से कम नहीं जान पड़ती है. लेकिन है यह पूरी तरह से हकिकत, आज जो यह घटना थाने में पहुंची है यह समलैंगिक संबंध के बढ़ते प्रभाव को दिखा रहा है तो वहीं दूसरी तरफ बच्चों के प्रति अभिभावकों की लापरवाही भी सामने आ रही है. दरअसल, पूरा मामला झारखंड राज्य के चतरा जिले से संबंधित है. प्राप्त जानकारी के अनुसार, चतरा में ही दो लड़की अनुजा कुमारी और प्रियंका वर्मा (दोनों काल्पनिक नाम) किसी मॉल में काम करती थी. धीरे-धीरे दोनों में दोस्ती हुई और यह प्यार में बदल गया. इसके बाद पूजा ने प्रियंका वर्मा को लड़का मानकर उससे शादी कर ली तथा पति के रूप में स्वीकार कर लिया.

इन दोनों का प्रेम संबंध और बिवाह दो साल तक रहा उसके बाद अनुजा के घर वालों ने उसकी शादी बेगूसराय जिले के पटेल चौक निवासी सुमित कुमार से कर दी. इस को लेकर अनुजा ने बताया कि परिजनों ने जबरन उसकी शादी सुमित से करवा दी है. अनुजा ने यह भी कहा है कि वह सुमित को अपने समलैंगिक शादी के बारे में सब कुछ बता दिए थे. लेकिन सुमित के परिजनों को इस बात को लेकर कोई आपत्ति नहीं है. आपको बता दें कि अनुजा और सुमित की शादी 14 जून को हुई थी. शादी के बाद सुमित ने अनुजा से कहा कि वह प्रियंका से बात न करे इसके बाद अनुजा ने प्रियंका से यह बात बताई. प्रियंका उससे मिलने बेगूसराय पहुंच गई और अनुजा के ससुराल में रहने की जिद्द करने लगी उसके बाद यह मामला पहुंच गया थाने में.

थाना में मामला पहुंचने के बाद पुलिस भी इस मामले के बाद से सकते में है. नगर थाना के पुलिस पदाधिकारी संतोष शर्मा ने बताया कि शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने इन्हें अपनी सुरक्षा में थाने जरूर ले आई है, लेकिन अब पुलिस भी इस मामले में विधि सम्मत कार्रवाई के लिए कानून की किताबों में हल ढूंढ़ रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here