Big News: कौकब के बाद अब मांझी ने रखी अपनी बात, राजद के खिलाफ जाकर सरकार से की ये मांग

0
559

पिछले दिनों केंद्र सरकार द्वारा लाये गए सवर्ण आरक्षण बिल को लेकर मामला फंस गया है. जहाँ एक तरफ राजद सवर्ण आरक्षण बिल के एकदम विरोध में खडा है, वहीँ बिहार में कांग्रेस के साथ-साथ हम के मुखिया जीतन राम मांझी ने भी  सवर्ण आरक्षण बिल को लागू करने की मांग शुरू कर दी है. जिसको लेकर महागठबंधन में आपसी मतभेद सामने आता दिख रहा है.

बिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी ने कहा कि सीएम नीतीश कुमार बिहार में आरक्षण का कोटा जल्द से जल्द बढ़ा कर लागू करें. उन्होंने यह भी कहा कि सवर्ण आरक्षण पर कोई भी फैसला महागठबंधन के बैठक के बाद ही होगी. उन्होंने आरक्षण पर फैसला जातिगत जनगणना के बाद होने की बात की.

गौरतलब है कि सवर्ण आरक्षण को लेकर पिछले कुछ दिनों से महागठबंधन में सीटों के बंटवारे को लेकर सभी दलों में सामंजस्य बनता नहीं दिख रहा है, वहीँ अब सवर्ण आरक्षण को लेकर महागठबंधन के सभी दलों के अलग-अलग विचार है. पिछले दिनों लोकसभा में सवर्ण आरक्षण को लेकर राजद के सांसद जय प्रकाश नारायण यादव ने खुला विरोध किया था और राज्यसभा में भी राजद के सांसद मनोज झा ने इस बिल का खुलकर विरोध किया था. जबकि बिहार में महागठबंधन के अन्य दल सवर्ण आरक्षण का राग अलाप रहे है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here