BJP विधायक के बयान पर मांझी का पलटवार, कहा- दलित पढ़े तो नक्सली और मुसलमान पढ़े तो आ-तंकी

0
291

बिहार की सियासत में इन दिनों उठापटक देखने को मिल रहा है. बांका में हुए ब-म ब्ला-स्ट के बाद से सियासत गरमा गई है. एक तरफ जहां बीजेपी की तरफ से मदरसे को लेकर तल्ख बयान सामने आ रहे हैं तो वहीं जदयू के सहयोगी का इस मामने में कड़ा रुख सामने आया है. आपको बता दें कि बीजेपी के विधायक हरिभूषण ठाकुर बचौल के बयान का जीतन राम मांझी ने विरोध किया है.

इस पूरे मामले को लेकर बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि ‘जब भी दलित लोगों के बाल-बच्चे पढ़ाई करते हैं, उसे नक्सली बता दिया जाता है और मुसलमानों के बच्चे मदरसों में पढ़ते हैं तो उसे आतंकवादी कह दिया जाता है. भाई साहब ऐसी मानसिकता से निकलिए. यह राष्ट्र की एकता और अखंडता के लिए सही नहीं है. ऐसी सोच समाज को तोड़ने वाली है. ऐसी बातों का मैं व्यक्तिगत रूप से पुरजोर खंडन करता हूं.’

आपको बता दें कि बांका में हुए इस घटना के बाद से बीजेपी के विधायक हरिभूषण ठाकुर बचौल ने मदरसे को आतं-कवाद की पढ़ाई का केंद्र बताया था. बचौल ने कहा था कि यहां जिस तरह से ब-म ब्ला-स्ट हुआ है वो सवालों के घेरे में है. निश्चित रूप से यहां बड़ी घटना को अंजाम देने की कोशिश हो रही थी. जेडीयू नेता और अल्पसंख्यक मंत्री जमा खान ने विरोध दर्ज करते हुए कहा कि बीजेपी विधायक को शायद मंदिर और मस्जिद के बारे में पता नहीं शायद इसलिए बयान दे रहे हैं. मंदिर में पूजा और मस्जिद में सिर्फ नमाज अता की जाती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here