मांझी की पार्टी का बयान : सीएम नीतीश अच्छा काम कर रहे हैं, चिराग पर साधा निशाना

बिहार में विधानसभा के चुनाव करीब हैं. ऐसे में अभी बिहार की राजनीति में कई नए मोड़ देखने को मिल सकते हैं. उधर नीतीश कुमार के साथ एनडीए के सहयोगी और लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष चिराग पासवान निरंतर बिहार सरकार पर निशाना साध रहे हैं तो उधर महागठबंधन में शामिल जीतन राम मांझी की पार्टी हिंदुस्तानी अवाम मोरचा सेकुलर ने नीतीश कुमार की तारीफ कर दी है. हम सेकुलर ने कहा कि कोरोना काल में सीएम नीतीश कुमार अच्छा काम कर रहे हैं. हम की ओर से यह बयान राष्ट्रीय प्रवक्ता दानिश रिजवान ने दिया. इसके साथ ही रिजवान ने लगे हाथों चिराग पासवान की खिंचाई भी कर दी है.

चिराग कर रहें बचकानी हरकत

हम प्रवक्ता ने सीएम नीतीश कुमार की सराहना करते हुए कहा कि कोरोना को लेकर वो अच्छा कर रहे हैं जबकि लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान विपत्ति के समय में भी राजनीति कर रहे हैं. ये बेहद बचकानी हरकत है. चिराग को यह बचकानी हरकत छोड़ कर अपने बयानों पर लगाम लगाने की जरुरत है.

मांझी का झुकाव नीतीश की ओर !

जिस प्रकार से कोरोना काल में नीतीश कुमार अपने ही गठबंधन के सहयोगियों के आक्षेपों का सामना कर रहे हैं, वैसे दौर में जीतन राम मांझी की पार्टी की ओर से बचाव का बयान आना बहुत कुछ संकेत देता है. बताया जाता है कि मांझी महागठबंधन में अपनी उपेक्षा से क्षुब्ध हैं.

महागठबंधन में समन्वय समिति की मांग को लेकर मांझी की उपेक्षा किसी से छिपी नहीं है. अब तक कम से कम समन्वय समिति के गठन को लेकर आधा दर्जन बार अल्टीमेटम की बात कोई सुनने को तैयार नहीं है. बीच में खबर आई थी कि कांग्रेस मांझी और राजद के बीच मध्यस्थ की भूमिका में आ गई है लेकिन फिर क्या हुआ, ये किसी को नहीं पता चला. दरअसल कांग्रेस मांझी को अपने पाले में रखना चाहती है लेकिन राजद को खोने की कीमत पर नहीं क्यांंकि कांग्रेस और राजद के संबंध हाईकमान स्तर से काफी मजबूत हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here