जानिए, कहां मिलेगा 150 रुपये में आपके जमीन का नक्शा

0
7417

एशिया का सबसे बड़ा पशु मेला सोनपुर में लगता है. इस मेले में आप पशुओं की कई प्रजातियों को देख सकते है. यहां छोटे से छोटे पंक्षी से लेकर हाथी घोड़े तक की बिक्री होती है.  बिहार सरकार के राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग ने मेले में अपना अलग से स्टॉल लगाने की बात कही है जिसमें वे पूरे बिहार के हर गांव का नक्शा उपलब्ध कराएंगे. मेला घुमने आए लोग रैयत 150 प्रति शीट की दर से भुगतान करके अपने गांव का नक्शा खरीद सकते हैं.

इसके लिए विभाग की ओर से सोनपुर मेला में लगने वाले अपने पंडाल में प्लॉटर (बड़ी प्रिंटर) मशीन लगाया जा रहा है. मेला घूमने आने वाले लोगों के लिए यह एक अतिरिक्त आकर्षण का केंद्र रहेगा. हम आपको बता दें कि पूरे राज्य के सभी जिलों से लेकर गांव तक राजस्व थाना के अनुसार नक्शा उपलब्ध कराने की कवायद हो रही है. बीते दो वर्षों से मेला में राजस्व व भूमि सुधार विभाग स्टॉल लगाकर लोगों को नक्शा लेने की सुविधा दे रहा है.

आपको बता दें कि पीछले साल विभाग द्वारा लगाए गए स्टॉल में 2 प्लॉटर मशीन लगाये गये थे. इन मशीनों से मेला अवधि में 3646 प्लॉट के कुल 8337 शीट्स बेच कर विभाग ने 12,50,550 रुपये की आमदनी की थी. इस बार विभाग ने तय दर पर चकबंदी के नक्शा को उपलब्ध करा रहा है. मेला में गुलजारबाग स्थित बिहार सर्वेक्षण कार्यालय के उप निदेशक व अपर समाहर्ता सारण को जिम्मेदारी दी गयी है.
विभाग नक्शा उपलब्ध कराने के लिए मेले में कई स्टॉल लगाएगा और वहां विभाग के अधिकारी और कर्मचारी मौजूद रहेंगे. नक्शा प्रिंट करने के लिए स्टॉल में प्लॉटर मशीन रहेगा कोई भी व्यक्ति 150 रु देकर अपने गांव का नक्शा तत्काल ले सकता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here