बिहार में मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट, इन जिलों में होगी वज्रपात के साथ भारी बारिश

0
646

बिहार में कोरोना और आकाशीय बिजली का कहर जारी है. प्रदेश में मानसून सक्रिय होने के बाद से लगातार बारिश हो रही है. मौसम विभाग पटना द्वारा जारी अलर्ट में कहा है कि गुरुवार से लेकर अगले 72 घंटे तक नेपाल से सटे उत्तरी बिहार के कई जिलों में भारी से अत्यंत भारी बारिश के साथ ही वज्रपात होगी. उन्होने जिलों का नाम बताते हुए कहा है कि पश्चिमी चंपारण, पूर्वी चंपारण, गोपालगंज, सिवान, शिवहर, सीतामढ़ी, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर, सारण, मधुबनी, सुपौल, अररिया, सहरसा, मधेपुरा, पूर्णिया, किशनगंज एवं कटिहार में भारी बारिश के साथ वज्रपात होने की संभावना जताई है.

मौसम विभाग द्वारा जरी अपडेट में यह भी बताया गया है कि इन जिलों में जान माल को नुकसान की आशंका है. साथ ही जलजमाव, यातायात बाधित, बिजली सेवा बाधित व नदी के जलस्तर में बढ़ोतरी की आशंका है. बिजली चमकने की आवाज सुनाई देने पर किसान व मजदूर खुले में कदापि नहीं रहें. पेड़ और बिजली के खंभों के नीचे नहीं रुके. पक्के मकान में शरण लेना ज्यादा बेहतर होगा.

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के बाद नेपाल में हो रही बारिश से स्थानीय लोगों में दहशत है. हालांकि फिलहाल गंडक नदी का जलस्तर स्थिर है लेकिन नदी में 1लाख 13 हज़ार क्यूसेक पानी का बहाव हो रहा है इसको लेकर जल संसाधन विभाग को भी अलर्ट पर रखा गया है. गुरुवार से तेज बारिश की आशंका के मद्देनजर जल संसाधन विभाग ने सभी संबंधित इंजीनियरों को सतर्क रहने को कहा है. बता दें कि गुरुवार को नेपाल के तराई क्षेत्रों में बारिश शुरू हो चुकी है.

बुधवार को भी वज्रपात की चपेट में आने से रा्ज्य में 12 लोगों की मौत हो गई है. बता दें कि बिहार में इस साल में अबतक वज्रपात से 200 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है।.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here