कोरोना से लड़ाई में आयुष मंत्रालय की यह सलाह आपके लिए बहुत काम की है, जरूर पालन करें

0
214

आज पूरा भारत कोरोना के गंभीर चपेट में है. अब कोई ऐसा राज्य नहीं रह गया है जहाँ कोरोना ने अपने पांव नहीं पसारे हो. दुनिया भर के सबसे ज्यादा संक्रमित देशो में देखते ही देखते भारत कब लगातार ऊपर चढ़ता चला गया पता ही नहीं चला. लेकिन देश में लचर स्वास्थ्य व्यवस्था होने के बावजूद हमारे देश में कोरोना से रिकवरी का रेसियो ठीक-ठाक है. तो वही दूसरी ओर कोरोना से जान गंवाने वालो की संख्या भी मरीज़ो की संख्या के अनुपात में दूसरे देशो से कम है और ऐसा इसलिए है क्यों की हमारे देश के लोगो में रोग प्रतिरोधक क्षमता यूरोपीय देश के लोगो की तुलना में शायद थोड़ा बेहतर है.

इस वक्त मौसम तेजी से बदल रहा है और इस चेंजिंग वेदर में सर्दी-जुकाम और सामान्य फ्लू होना आम बात है. लेकिन अब इस Corona ने सभी लोगों के मन में डर का माहौल पैदा कर दिया है. हर कोई इस कोरोना से बचने के उपाय अपनाना चाहता है लेकिन डर का माहौल इतना है कि हल्‍की खांसी या जुकाम में भी लोग दहशत में आ रहे हैं. क्योंकि कोरोना के लक्षण भी कॉमन कोल्ड जैसे ही हैं, सर्दी, नाक बहना, खांसी, बुखार, साँस लेने में तकलीफ आदि. इस वजह से लोगों के लिए इस बीमारी को पहचानना मुश्किल हो रहा है. ऐसे में बेहद जरूरी है की आप इन बिमारियों से बचाव के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने पर काम करे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी अप्रैल के राष्ट्र के नाम संबोधन में सप्तपदी की बात कही थी और कोरोना से लड़ने के लिए सात मंत्र दिए थे. जिसमे से एक मंत्र इम्युनिटी यानी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने का था. पीएम ने कहा कि था अपनी इम्युनिटी बढ़ाने के लिए आयुष मंत्रालय द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करें.

आयुष मंत्रालय इम्युनिटी बढ़ाने के लिए जो सेल्फ केयर गाइडलाइन्स जारी की हैं उसकी पूरी जानकारी हम आपको देने वाले है. लेकिन उससे पहले एक बात का ध्यान रखे यह गाइडलाइन्स केवल इम्युनिटी बढ़ाने या रोग प्रतिरोधक क्षमता को मज़बूत बनाने के लिए है. यह कोरोना का इलाज नहीं है इसलिए अगर आप कोरोना संक्रमित है तो डॉक्टर के सलाह से ही किसी भी चीज़ या दवाईयों का सेवन करे.

आयुष मंत्रालय ने इम्युनिटी बढ़ाने के लिए अपनी गाइडलाइन्स में कुछ सामान्य तरीके बताये है जिसको अगर आप अपने दैनिक जीवन में शामिल करते है तो वे आपके शरीर को स्वस्थ रखने और कोरोना से लड़ने में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मदद करेंगे.-

आयुष मंत्रालय के अनुसार-

1- गर्म या सुसुम पानी इम्युनिटी को बढ़ाने में सहायता करता है. इसलिए जब भी पानी पिए गर्म या सुसुम पानी ही पियें.

2- खाना बनाने में हल्दी-जीरा-धनिया-लहसुन का उपयोग अवश्य करें.

3- कोशिश करे की योगासन, प्राणायाम और ध्यान हर दिन कम से कम 30 मिनट तक जरूर करें.

4- सुबह की शुरुआत हर दिन एक चम्मच च्यवनप्राश के साथ करें. जिन लोगों को डायबीटीज की समस्या है वे शुगर फ्री च्यवनप्राश का सेवन कर सकते हैं.

5-हर्बल टी या काढ़ा का सेवन दिन में एक बार जरूर करे. इसके लिए तुलसी, दालचीनी, काली मिर्च, अदरक और मुनक्का को एक साथ पानी में उबाल लें और छानकर इस पानी का सेवन करें. ऐसा आप दिन में 1 से 2 बार कर सकते हैं. अगर आपको इस काढ़े को पीने में टेस्ट की वजह से कोई दिक्कत आए तो टेस्ट के लिए आप इसमें गुड़ या नींबू का रस मिला सकते हैं.

6- अगला है गोल्डन मिल्क का सेवन. आधा चम्मच हल्दी को 150 एमएल दूध में मिलाकर दिन में एक से दो बार पी सकते हैं. हालाँकि यह ध्यान रखें कि गोल्डन मिल्क के सेवन से तुरंत पहले या इसके तुरंत बाद खाना नहीं खाया होना चाहिए.

आयुष मंत्रालय ने सुखी खांसी और गले में दर्द के उपचार के लिए भी आयुर्वेदिक सलाह दी है-

आयुष मंत्रालय के अनुसार अगर आपको सूखी खांसी और गले में दर्द है तो,

– पुदीने की पत्तियां और अजवाइन (बीज) लेकर इन्हें पानी में उबाल लें और इस पानी की भाप लें. इससे आपको जरूर लाभ होगा.

-और अगर आपको कफ या गले में दिक्कत हो तो लौंग का पाउडर, शहद या चीनी के साथ मिलाएं और दिन में 2 से 3 बार इस मिश्रण का सेवन करें.

हालाँकि इस बात का ध्यान रखें

-ये तरीके सामान्यतौर पर होनेवाली सूखी खांसी या गले में दर्द की स्थिति में अपनाए जाते है. अगर इसके बाद भी आपके शरीर में ये लक्षण बने रहते हैं तो आपको तुरंत डॉक्टर को दिखाना चाहिए.

आयुष मंत्रालय के अनुसार यह सभी जानकारियां देश के जानेमाने आयुर्वेदाचार्यों द्वारा दी गई हैं आप अपनी जरूरत और सुविधा के हिसाब से इन्हें अपने दैनिक जीवन में शामिल कर सकते हैं. ये सभी उपाय बदलते मौसम में होनेवाली स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतों से लड़ने और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में सहायक होती हैं. जाते-जाते आपको फिर से आगाह कर दूँ की आप इन विधियों को कोरोना के इलाज के रूप में ना लें. अगर आप कोरोना संक्रमित है तो डॉक्टर के सलाह से ही किसी भी चीज़ या दवाईयों का सेवन करे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here