अगले महीने मोदी कैबिनेट का हो सकता है विस्तार, JDU को जगह मिलने पर चर्चा तेज

0
514

नरेंद्र मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल की पहली कैबिनेट विस्तार अगले महीने हो सकता है. सुत्रों की माने तो इस बार कैबिनेट विस्तार में जदयू को भी मंत्रीमंडल में जगह मिलने की बात कही जा रही है. आपको बता दें कि सरकार बनते समय दोनों ही राजनीतिक पार्टियों के बीच में मंत्रीपद के लिए नाराजगी साफ देखी गई थी. इस बार बिहार में विधानसभा का चुनाव भी हैं ऐसे में बीजेपी इस मौका को छोड़ना नहीं चाहेगी.

न्यूज एजेंसी आईएएनएस की माने तो नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्यकाल में कैबिनेट का पहला विस्तार होने वाला है. मोदी कैबिनेट में फेरबदल सावन खत्म होने के बाद हो सकता है. सावन तीन अगस्त को खत्म हो रहा है. सत्ता से जुडे सूत्रों का कहना है कि मंत्रिमंडल का विस्तार अगस्त के दूसरे हफ्ते में हो सकता है. बीजेपी सूत्रों के मुताबिक सावन के समाप्त होने के बाद कैबिनेट में फेरबदल के लिए कवायद शुरू हो गयी है.

मोदी कैबिनेट के विस्तार में इस बार कहा जा रहा है कि इस बार जदयू को मंत्रिमंडल में जगह मिल सकती है. इस साल बिहार में विधानसभा चुनाव होने हैं. लिहाजा बिहार का प्रतिनिधित्व बढ़ाया जा सकता है. वैसे भी सांसदों की संख्या के हिसाब से जेडीयू बीजेपी की सबसे बडी सहयोगी पार्टी है. पिछले साल नरेंद्र मोदी कैबिनेट के गठन के समय जेडीयू को एक मंत्री पद का ऑफर दिया गया था. लेकिन नीतीश की ख्वाहिश ज्यादा की थी. लिहाजा जेडीयू मंत्रिमंडल से बाहर रह गया. तब से अब तक में जदयू और बीजेपी के रिश्तों में मधुरता आई है. बीच में जब दोनों ही दलों के बीच में जब खटास उत्पन्न हुआ था तो इस बात का भी जिक्र किया जाने लगा था कि वह अलग हो जाएंगे. लेकिन इन सब के बीच बीजपी ने एक बार फिर से नीतीश कुमार को सीएम का चेहरा बनाया है. बीजेपी कैबिनेट में जदयू को जगह देकर बिहार में विपक्षियों का मुंह बंद भी करेगी और बिहार एनडीए में चल रहे गतिरोध पर भी विराम लग सकता है. इसके साथ ही विरोधियों पर एक प्रहार होगा.

बीजेपी सूत्रों के मुताबिक पार्टी के बिहार प्रभारी और नरेंद्र मोदी-अमित शाह के खास माने जाने वाले भूपेंद्र यादव को मंत्री बनाया जा सकता है. वहीं संगठन में काम कर रहे अनिल जैन और अनिल बुलानी को भी मंत्री बनाया जा सकता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here