जानिए कौन हैं वो मुसलमान जिनके दरबार पहुंचे है भारत के प्रधानमंत्री !

0
877

आज भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इंदौर की एक मस्जिद में पहुंचे, यह कोई पहला मौका नहीं था जब भारतीय प्रधानमंत्री किसी मस्जिद में गए हो. इससे पहले भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इंडोनेशिया, ओमान, सिंगापुर, अबु धाबी और अहमदाबाद की मस्जिदों में जा चुके है. खैर नरेंद्र मोदी भारत के प्रधानमंत्री है तो सभी धर्मों को सम्मान देना उनका कर्त्तव्य भी है.

सब को [पता है की अभी भारत में चुनावी मौसम चल रहा है और तीन राज्यों मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान के साथ साथ 2019 आम चुनाव भी है. मध्य प्रदेश में तो चुनाव दो ही महीने में है. सभी पार्टियां जोर शोर से इस चुनावी मौसम में तैयारियां कर रही है.

तो बता यह है की इन दिनों दाउदी बोहरा समुदाय के सर्वोच्च धर्मगुरु सैय्यदना मुफ़द्दल सैफ़ुद्दीन अपने मध्य प्रदेश दौड़े के तहत इंदौर में है. सैय्यदना मुफ़द्दल सैफ़ुद्दीन 6 सितम्बर को वहां पहुंचे 25 सितम्बर तक रहेंगे.

इसी दौरान धर्मगुरु मुहर्रम के मौके पे प्रवचन भी देंगे. सैय्यदना मुफ़द्दल सैफ़ुद्दीन को मध्य प्रदेश की सरकार ने राजकीय अतिथि का दर्जा घोषित किया है और इसलिए मध्य प्रदेश का पूरा प्रशासनिक अमला इनकी खिदमत में लगा है. सैय्यदना मुफ़द्दल सैफ़ुद्दीन को दाउदी बोहरा समाज सबसे ऊपर मानता है और आपको बता दे की मुस्लिम समुदाय का यह दाउदी बोहरा समाज शिया समुदाय का एक अंग होता है या यूँ कहे तो यह शिया मुस्लिम का एक प्रकार होता हैं जिसकी उत्पत्ति गुजरात से हुई.

दाउदी बोहरा बिज़नेस में अव्वल होते है और यह कुशल कारोबारी के साथ साथ एक अनुशासित व्यक्तित्व के धनि भी होते है. इनकी आबादी की अगर बात करे तो पूरे भारत में शिया मुस्लिम लगभग 4 करोड़ है जिनमे प्रमुखतः यह गुजरात में 20 लाख के करीब है.

सैय्यदना मुफ़द्दल सैफ़ुद्दीन इंदौर में है और इसलिए इनके दर्शन के लिए खुद प्रधानमंत्री मोदी भी वहां पहुंचे। प्रधानमंत्री ने दाउदी बोहरा समुदाय को देशभक्त के साथ साथ देश की प्रगति में हाथ बंटाने वाला भी कहा. उन्होंने सैयदना ताहेर सैफुद्दीन साहब का जिक्र करते हुए कहा की उन्होंने गांधीजी के साथ मिलकर स्वतंत्रता में अपना अहम् योगदान दिया था.

आपको बता दे की दाउदी बोहरा समुदाय के लोग काफी संपन्न होते है क्यूंकि यह सफल बिजनेसमैन होते है और माना यह भी जा रहा है की धर्मगुरु सैय्यदना मुफ़द्दल सैफ़ुद्दीन की तरफ से हर बार किसी भी पार्टी को एक मोटी रकम चंदे के रूप में दी जाती है. यह चंदा दाउदी बोहरा समाज के द्वारा हर चुनाव में दिया जाता है, हालांकि यह चंदा अघोषित होता है और इसीलिए मध्य प्रदेश का कांग्रेस नेतृत्व भी राहुल गाँधी को वहां ले जाने के जुगत में है.

  • 108
  •  
  •  
  •  
  •  
    108
    Shares
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here