मुखिया जी को मिल गया काम, सरकार ने अब दिया ये ज़िम्मा

0
475

बिहार में अब पंचायत समितियों के बीच काम को लेकर कोई बकझक नहीं होने वाला है बल्कि उल्टा अब तो सभी मुखिया प्रतिनिधि साथ मिलकर काम करते नज़र आने वाला है और हम ऐसा दावा इसीलिए कर रहे है क्यूंकि बिहार सरकार ने हाल ही में मुखियाओं को मिलने वाले कामो में बंटवारा कर दिया है. जिससे अब इनके बीच किसी भी तरह का संदेह देखने को नही मिलेगा कि इन्हें कौन सा काम करना है कौन सा काम नहीं करना है. पंचायतो का विकास होता रहे इसको लेकर ही बिहार की नीतीश सरकार ने कामो का बंटवारा किया है जिसके तहत ही अब जिला परिषद् सदस्य पंचायत सदस्य और मुखिया को अलग अलग काम करने की जवाबदेही की गई है इतना ही नहीं अब इन पंचायत प्रतिनिधियों कितने प्रतिशत राशि खर्च करनी है इसको लेकर भी गाइडलाइन जारी कर दिया गया है वहीं ग्राम पंचायतो में विकास कार्य करवाने के लिए मुखिया को विकास कार्य योजना अपलोड करना अनिवार्य है, जिन भी पंचायत के मुखिया अब तक अपनी कार्ययोजना अपलोड नहीं कर पाये है उन्हें यह काम अब जल्द से जल्द करना होगा. सरकार के 15 वे वित्त आयोग द्वारा अनुसंशित योजना के अनुसार आयोग द्वारा अनुसंशित की राशि हर साल जून और अक्टूबर में दो किश्तों में विमुक्त किया जाना है. पंचायती राज की माने तो मुखिया के जिम्मे कई काम अब होने वाले है अनटाइड मद में से कुल 42 प्रतिशत राशि से मुखिया अपने पंचायत में विकास का काम करवाने वाले है. अब ऐसे सोलर स्ट्रीट लाइट उद्यान में खुले जिम की बस स्टैंड ऑटो स्टैंड खेल का मैदान या सामुदायिक भवन का निर्माण या अन्गंबदी केन्द्रों में सुविधाओं का विकास सौदागिरी के देख रेख की ज़िम्मेदारी अब मुखिया जी उठाने वाले है

इतना ही नहीं बिहार सरकार कि योजना के अनुसार टाइड मद से अब ३० प्रतिशत राशि से स्वच्छता और पंचायतों को शौच मुक्त रखने कि योजना पर काम होने वाला है इसके साथ ही ग्रामीणों के पेयजल आपूर्ति वर्षा जल संचयन और वाटर रीसाइक्लिंग मुख्यमंत्री ग्रामीण योजना को पूरा करने और इसके रखरखाव करने साथ ही सार्वजनिक कुओं के जीर्णोधार और छठ घाटो के निर्माण में इसका काम होगा, पचायत के कृषि कार्य में पंचायत समीति के सदस्य का योगदान होगा. पंचायत समीति सदस्य अनटाइड मद से कई काम करवा सकेंगे. इनके जिम्मे खेल के मैदान का निर्माण होगा उद्यान और खुले जिम की व्यवस्था होगी. सौह्दागिरी और विद्युत् सौह्दागिरी टाइड मद से सौचालायो का निर्माण होगा. इसके साथ ही टाइड मद से सिंचाई क्षमता में चेक डेम आहार पाइन का निर्माण जल संसाधन विभाग और लघु जल संसाधन विभाग से समनव्य बनाकर नदी के पुरानी धार का पुनर्स्थापना किया जायेगा, इसके साथ ही एक से तीन हेक्टेयर के जल संग्रहण के क्षेत्रों का जीर्णोधार और निर्माण छठ घाटो का निर्माण किया जायेगा जिला परिषद की ज़मीन का सीमांकन और चाहरदीवारी का निर्माण जिला परिषद अस्पताल की व्यवस्था सौह्दागिरी और विद्युत् सौह्दागिरी का निर्माण विद्युत् क्षेत्रों में निर्माण कार्य का ज़िम्मा अब पंचायत प्रतिनिधियों के हाथ में होने वाला है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here