अब बिहार में संपत्ति खरीदने-बेचने की प्रक्रिया हुई आसान; जाने कैसे.

0
1147

संपत्ति अंतकरण एक जरिया है जिससे आप एक संपत्ति को कानूनी तौर पर अपने नाम करवाते हैं. जिस प्रक्रिया को पूर्ण करने में दाखिल ख़ारिज एक महत्वपूर्ण कदम है। दाखिल ख़ारिज के बाद हीं संपत्ति आधिकारिक तौर पर आपके नाम होती है. ख़ुशी की बात है की बिहार सरकार ने इस प्रक्रिया को और आसान बना दिया है. अब निबंधन करते हीं ये प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। इसके लिए आपसे 15 जुलाई के बाद होने वाले सारे अंतकरण में एक फॉर्म भरवाया जाएगा। निबंधन की एक सीडी भी जमा करायी जाएगी जिसके आधार पर ये प्रक्रिया सुचारू तरीके से चलायी जा सके. दाखिल ख़ारिज बहुत सारे कारणों से ज़रूरी है. इससे सरकार सही मालिक से संपत्ति कर नियोजित तरीकों से ले पाती है. संपत्ति अंतकरण के फॉर्म के लिए आप http://lrc.bih.nic.in/ror.aspx पर जाकर डाउनलोड कर सकते है। और कुछ दस्तावेज जो आप तैयार रखें वो हैं –

आधार कार्ड

राशन कार्ड

एफिडेविट

दाखिल ख़ारिज का आप्लिकेशन।

इसके साथ हीं कुछ और सुधार अधिनियमों पर काम चल रहा है. राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग ने आश्वाशन दिया है की सड़कों को लेकर भी कुछ नियम है जिनपे काम  चल रहा है और वो जल्द ही लागू कर दिए जाएंगे. नियमों को आसान  एवं प्रक्रिया को और नियमित करने से सरकार को शासन को दुरुस्त  बनाने  में मदद मिलेगी। पूरी प्रक्रिया को बेहतर तरीके से समझने के लिए निम्न लिंक पर क्लिक करें –
http://lrc.bih.nic.in/Circulars/Mutation_of_land_111020121046.pdf

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here