नेपाली नागरिकों ने सुपौल में नो मेंस लैंड के पास काट दी सड़क, जलमग्न हो गया कुनौली

0
503

नेपाल और बिहार में पिछले कुछ दिनों से हो रही भारी बारिश से उत्तर बिहार में तबाही का आहम है. एक तो बिहार पहले से ही कोरोना की मार झेल रहा है इधर पर ऊपर से नेपाल द्वारा किया जा रहा है गैरजिम्मेदाराना हरकत परेशानियों को बढ़ा दे रहा है. मिली जानकारी के अनुसार नेपाल में सुपौल जिले के कुनौली से लगती नो मेंस लैंड से 50 मीटर की दूरी पर नेपाली नागरिकों ने सड़क तोड़ दी है जिससे पूरा कुनौली जलमग्न हो गया है. घटना के बारे में बताया जा रहा है कि कुनौली भंसार के पास नेपाली हिस्सेे में इलाठी और तेलही गांव में जब पानी अधिक बढ़ा तो स्थानीय लोगों ने भंसार के पास बनी सड़क को नेपाली नागरिकों ने काट दिया. जिसकी वजह से कुनौली पूरा जलमग्न हो चुका है और जिला मुख्यालय से इसका संपर्क टूट गया है.

इस पूरे मामले को लेकर बताया जा रहा है कि रमपुरा बॉर्डर से राजविराज जाने वाली सड़क में इंडो नेपाल के पिलर संख्या 222 से 50 मीटर की दूरी पर बांध सह सड़क को दो-दो जगहों पर काटकर बाढ़ के पानी का बहाव तेज कर दिया गया. ये भी जानकारी आ रही है कि शरारती तत्वों द्वारा पहली बार सड़क को सोमवार शाम में ही काटने की कोशिश की गई थी. नेपाल की तरफ से 50 की संख्या में शरारती तत्वों ने सोमवार की शाम सुरक्षा बांध तोड़ दिया. इसकी वजह से सुपौल के सीमावर्ती क्षेत्र कुनौली बाजार में पानी घुस गया है.

कुनौली की ओर जाने वाली कई अन्य सड़कें भी इस पानी के दबाव में बह गई हैं. एसएसबी कैंप में भी पानी चला गया है और जवानों ने स्कूलों में शरण ले रखी है. डीएम महेंद्र कुमार ने इस घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि राहत और बचाव कार्य किए जा रहे हैं. इस घटना को लेकर कुछ लोगों ने यह भी बताया है कि भारतीय लोगों के विरोध करने के बाद भी नेपाल के लोगों ने सड़क को काट दिया. जिसके बाद से पानी का दवाब बढ़ गया है. कुनौली, कमलपुर और डगमारा पंचायत के पिपराही गांव जलमग्न हो गये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here