नीतीश सरकार ने बाढ़ प्रभावित 60 हजार परिवारों के खातों में भेजे 6-6 हजार रुपये

0
206

उत्तर बिहार के 12 जिलों में 36 लाख लोग बाढ़ की चपेट में हैं. बाढ़ और कोरोना की स्थिति को देखते हुए सीएम नीतीश कुमार ने बुधवार को 1 अणे मार्ग स्थित नेक संवाद में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से बाढ़ प्रभवित 12 जिलों के जिलाधिकारियों के साथ बाढ़ और कोरोना को लेकर समीझा की है. आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने विस्तृत जानकारी देते हुये बताया कि आज की स्थिति में 12 जिले के 101 प्रखंड के 36 लाख की जनसंख्या बाढ़ से प्रभावित है. उनके लिए बाढ़ राहत शिविर, सामुदायिक किचेन की व्यवस्था की गयी है और लोगों को राहत पहुंचायी जा रही है.

उन्होंने बताया है कि प्रदेश में अब तक 60 हजार बाढ़ प्रभावित परिवोरां के खाते में 6 हजार रुपये की ग्रेच्युट्स रिलीफ की राशि अंतरित कर दी गयी है. उन्होंने कहा है कि आज यानी की गुरुवार तक 40 हजार लोगों के खाते में यह राशि पहुंच जाएगी. उन्होंने यह भी कहा है कि 8 से 10 अगस्त तक सभी बाढ़ परिवारों के खाते में राशि ट्रांसफर कर दी जाएगी. इस समीक्षा बैठक में सबसे अधिक बाढ़ प्रभावित जिला दरभंगा, पूर्वी चम्पारण, गोपालगंज, सारण एवं समस्तीपुर के जिलाधिकारियों ने नदियों के जलस्तर की स्थिति, बाढ़ राहत शिविर, सामुदायिक किचेन, नावों की उपलब्धता, मेडिकल सुविधाएं, शौचालय एवं पेयजल की व्यवस्था, पशुचारे की उपलब्धता, पशु कैंप की व्यवस्था, फसल क्षति का आकलन आदि के बारे में विस्तृत जानकारी दी.

आपको बता दें कि मुख्यमंत्री ने बाढ़ राहत शिविरों एवं सामुदायिक किचेन का डिजिटली अवलोकन किया है. इस दौरान उन्होंने राहत शिवरों में रह रहे लोगों से भी बात की है. और वहां का हाल चाल जाना. वहां किस तरह की व्यवस्था की गई है इसके बारे में भी जानकारी ली. मुख्यमंत्री ने कहा कि बाढ़ राहत शिविरों में स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध करायी जा रही है. राहत शिविरों में आने वाले लोगों का एंटीजन टेस्ट अवश्य कराएं. बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में एंटीजन किट्स आपूर्ति की संख्या बढ़ाएं. लोगों की हिफाजत तथा उनकी सेवा के लिए हर क्षण तैयार रहें, उनसे फीडबैक लेते रहें. अगस्त एवं सितम्बर माह में भी संभावित बाढ़ की स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह मुस्तैद रहें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here