एक और ओपिनियन पोल में नीतीश कुमार को मिल रही है सत्ता, जानिए पूरी सीट के बारे में

0
323

बिहार विधानसभा चुनाव में राजनीति अपने चरम पर है. सभी राजनीतिक पार्टियों ने अपने अपने उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर दी है. ऐसे में अब ABP-CVoter ने अपना ओपिनियन पोल जारी किया है. आपको बता दें कि बिहार में कुछ ही दिनों के बाद पहले चरण का मतदान शुरू हो जाएगा. आपको बता दें कि बिहार में तीन चरणों में मतदान होना है. पहले चरण का मतदान 28 अक्टूबर होना है तो वहीं दूसरए चरण का मतदान 3 नवंबर को होना है तो वहीं तीसरे चरण का मतदान 7 नवंबर को होना है. ऐसे में ABP-CVoter ने बिहार में 243 सीटों के लिए ओपिनियन पोल जारी किया है.

जारी ओपिनियन पोल की माने तो एनडीए के खाते में 135-159 सीट, महागठबंधन के खाते में 77 से 98 सीट आती दिख रही है वहीं लोजपा के खाते में 1 से 5 सीट मिल सकती है. वहीं अन्य के खाते में 4 से 8 सीट जाती दिख रही है. अब तक यही कहा जा रहा था कि इस विधानसभा चुनाव के परिणाम से यह साबित होगा कि चिराग पासवान बिहार की राजनीतिक में आगे कितना महत्वपूर्ण रह सकता है. लेकिन अब तक के दो ओपिनियन पोल की माने तो लोजपा के खाते में मात्र एक से पांच सीटें आती दिख रही है.

सी वोटर और एबीपी ने बिहार के अलग अलग हिस्सों में सीटों को लकेर विशलेषण किया है जिसमें सिमांचल की 24 सीटों में से एनडीए के खाते में 11 से 15 सीटें आती दिख रही है. वहीं महागठबंधन के खाते में 8 से 11 सीटें आती दिख रही है. अन्य के खाते में 1 या उससे एक ज्यादा सीटें आ सकती है. अगर बात अंग प्रदेश की करें तो यहां की 27 विधानसभा सीटों में से एनडीए के पक्ष में सबसे ज्यादा सीटें जा सकती हैं. ABP C Voter Opinion Poll 2020 के मुताबिक, अंग प्रदेश की 27 सीटों में से एनडीए के खाते में 16 से 20 सीटें जा सकती हैं. जबकि महागठबंधन को यहां 6 से 10 सीटें मिलने का अनुमान है.

मिथिलांचल की कुल 50 विधानसभा सीटों में आधे से ज्यादा पर एनडीए को सफलता मिल सकती है. ओपिनियन पोल के मुताबिक, मिथिलांचल से एनडीए को 27-31 सीट मिल सकती हैं. जबकि महागठबंधन के खाते में 18-21 सीट जा सकती हैं. मगध क्षेत्र में कुल 69 सीटों पर जनता का मिजाज एनडीए के पक्ष मे ज्यादा दिख रहा है. ओपिनियन पोल के मुताबिक, एनडीए के खाते में मगध क्षेत्र से 36-44 सीट मिल सकती हैं. जबकि महागठबंधन के खाते में 23-30 सीटें जा सकती हैं.

उत्तर बिहार में आने वाले विधानसभा की 73 सीटों की बात करें तो यहां भी चिराग पासवान की पार्टी का खाता खुलता नजर नहीं आ रहा है. उत्तर बिहार के जिले मुजफ्फऱपुर, सीतामढ़ी. शिवहर, पूर्वी चंपारण, पश्चिमी चंपारण, वैशाली, छपरा, सीवान और गोपालगंज की 73 विधानसभा सीटों पर ओपिनियन पोल के मुताबिक, यहां से एनडीए को 45-49 सीट मिल सकती हैं. जबकि महागठबंधन के खाते में 22-26 सीट जा सकती हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here