पप्पू यादव ने नीतीश सरकार पर साधा निशाना, कहा- इन्हें जनता की जान की कोई चिंता नहीं है.

0
300

बिहार में इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीति तेज हो गई है. जन अधिकार पार्टी के अध्यक्ष पप्पू यादव ने बाढ़ और कोरोना के बढ़ते संक्रमण को लेकर नीतीश सरकार पर हमला बोला है. उन्होंने कहा है कि पूरी सरकार, जिसने थाली-ताली बजवाई और मोमबत्ती जलवाया, वो आज क्वारंटाइन में हैं. भाजपा के 75 नेता कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. उन्होंने कहा के सीएम आवास में 60 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. फिर भी लोग चुनाव कराना चाहते हैं.

Patna: Jan Adhikar Party Chief and MP Rajesh Ranjan alias Pappu Yadav address press confrence in Patna on Wednesday September 05, 2018 Photo/Aftab Alam Siddiqui

पप्पू यादव ने नीतीश सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा है कि हॉस्पिटल में आईसीयू बेड, वेंटिलेटर और दवा नहीं हैं. डिप्टी सेक्रटरी की मौत बेड नहीं मिलने के कारण हो गई. ऐसी महामारी में सत्ता पक्ष के नेता कहाँ हैं? मुख्यमंत्री की खोज के लिए लोग ट्विटर पर ट्रेंड करवा रहे हैं. विधायक, सांसद सभी गायब हैं.

पप्पू यादव ने बिहार में बाढ़ की स्तिथि पर बोलते हुए कहा कि नदियां खतरे के निशान के ऊपर बह रही हैं. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को गंडक, कोसी, गंगा नदी का दौरा कर स्थिति की पड़ताल करनी चाहिए. और जनता को राहत पहुंचाने के लिए तत्काल कदम उठाना चाहिए. भ्रष्ट नेता और अधिकारी बाढ़ को दुधारू गाय समझते हैं. राज्य में जितने पुल और बांध टूटे हैं, उनकी जांच उच्च न्यायालय के न्यायाधीश के द्वारा होनी चाहिए. साथ ही उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव समेत भाजपा के सभी नेताओं के आय की जांच होनी चाहिए.

उन्होंने आगे बोलते हुए कहा कि वर्चुअल और डिजिटल रैली से जनता को कोई फायदा नहीं है. अभी जनता को चुनाव की जरूरत नहीं है. जनता को मास्क और सैनिटाइजर की जरूरत है, जिससे की कोरोना वायरस महामारी से बचा जा सके. सरकार दावा कर रही है कि कोरोना काल में 8434 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं. लेकिन जनता को कोई लाभ नहीं मिला है. मैं इसकी सीबीआई जांच के लिए कोर्ट जाउंगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here