पाटलिपुत्र बस टर्मिनल मेट्रो स्टेशन बनेगा मल्टी हब, पटना के 20 लाख यात्रियों को मिलेगा फायदा

0
482

बिहार की पहली मेट्रो सेवा यानी पटना मेट्रो को लेकर काम युद्ध स्तर पर जारी है. बता दें कि पटना मेट्रो परियोजना के अंतर्गत दो लाइन बनेगी, जिसमें दानापुर-मीठापुर-खेमनी चक कॉरिडोर पहली लाइन और पटना रेलवे स्टेशन से पाटलिपुत्र बस टर्मिनल दूसरी लाइन में शामिल है. इस परियोजना के कॉरिडोर -2 का अंतिम स्टेशन पाटलिपुत्र बस टर्मिनल मेट्रो स्टेशन है जो आने वाले समय में यातायात का प्रमुख केंद्र बनने वाला है. इस मेट्रो स्टेशन की बनावट ऐसी होने वाली है जो शहर में मल्टी माडल हब के रूप में दिखेगा. अधिकारियों के अनुसार 2025 तक यह मेट्रो स्टेशन बन कर तैयार हो जाएगा खास बात यह है कि पाटलिपुत्र बस टर्मिनल इस मेट्रो स्टेशन के सबसे पास होगा, जिस वजह से दूसरे राज्यों में बस से जाने वाले यात्रियों को काफी सहूलियत मिलेगी. बस पकड़ना हो या बस से उतरना, मेट्रो स्टेशन होने से यहां यात्रियों को आसानी होगी.

metro

आपको बताते चलें कि लाइन- 2 के साढ़े 6 किलोमीटर लंबे हिस्से में पांच एलिवेटेड मेट्रो स्टेशन पड़ेंगे जिनमें मलाही पकरी, खेमनी चक, भूतनाथ, जीरो माइल और पाटलिपुत्र बस टर्मिनल आएंगे. खेमनी चक स्टेशन से लाइन एक और लाइन दो के बीच इंटरचेंज कर सकेंगे. आपको बता दें कि पाटलिपुत्र बस टर्मिनल से जुड़े मेट्रो स्टेशन के माध्यम से यहां सड़कों पर भारी ट्रैफ़िक से भी राहत मिलेगी.

बस टर्मिनल के परिसर के अंदर दो प्रवेश व निकास, चार लिफ्ट और छह एलिवेटर की योजना बनाई जा रही है. साथ ही एक फुट ओवरब्रिज का निर्माण होगा जो टर्मिनल को मेट्रो स्टेशन से जोड़ेगा. जानकारी के अनुसार यात्रियों की आवाजाही की सुविधा के लिए मेट्रो स्टेशन में चार लिफ्ट और छह एस्केलेटर होंगे. स्टेशन में एक बड़ा पार्किंग स्थान भी होगा जो महात्मा गांधी सेतु और बख्तियारपुर की ओर से आने वाले यात्रियों को सुविधा प्रदान करेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here