पटना निगम सफाईकर्मियों का हड़ताल जारी, सड़कों पर फैला है हजारों टन कूड़ा

0
589

आज पटना नगर निगम कर्मियों की हड़ताल का पांचवा दिन हैं. निगम सफाईकर्मी (Corporation sweeper) और सरकार के बीच में पिछले पांच दिनों से जुवानी जं-ग जारी है. निगम के कर्मचारी हड़ताल तो सरकार अपनी जिद्द पर है. इन सब के बीच नगर विकाश मंत्री ने चुप्पी साध रखी है. पटना के सड़कों पर हजारों टन कूड़ा फैला हुआ है और आम लोगों को आने जाने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. ऐसी स्थिति बनी रही है बिमारियां भी फैल सकती है.

गुरुवार को सफाईकर्मियों ने नगर विकास मंत्री सुरेश शर्मा (Suresh Sharma) के सरकारी आवास के आगे मुख्य सड़क पर मृत जानवर फेंक दिया. दोपहर तक वह जानवर वहीं पड़ा रहा. अब निगम सफाईकर्मियों की हड़ताल दूसरे जिलों में भी होने लगी है. सफाईकर्मी काम ठप कर दिए है. पटना में आउटसोर्सिंग (Outsourcing) के विरोध में 4300 नगर निगम के सफाईकर्मीं तो हड़ताल पर हैं ही साथ ही आउटसोर्सिंग पर रखे गए 2200 कर्मी भी मारपीट के भय से काम नहीं कर रहे हैं.

सफाईकर्मियों का आक्रोश गुरुवार को पूरे दिन दिखा. मौर्यालोक कॉम्पलेक्स (Mauryalok Complex) में निगम मुख्यालय के सामने विरोध-प्रदर्शन जारी रहा. शहर के मुख्य सड़कों से लेकर मोहल्ले की गलियों तक गंदगी फैल गई है. कई जगह सीवर जाम है. कुड़े के अंबार को देखते हुए पटना के जिलाधिकारी ने फोर्स की तैनाती के बीच सड़कों की सफाई का निर्देश दिया है. गुरुवार की शाम पांच बजे से स्वीपिंग मशीन से मुख्य सड़कों की सफाई शुरु हुई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here