सुशांत सिंह राजपूत मामले में मुंबई गई पटना SIT की टीम ने छोटे होटलों में सूखी रोटी तक खानी पड़ी थी

0
117

सुशांत सिंह राजपूत मामले में बिहार पुलिस रोज एक नए खुलासे कर रही है. अब जो बात निकल कर सामने आ रही है उसमें बताया जा रहा है कि पटना पुलिस की एसआईटी को बीएमसी एक नेता के कहने पर क्वारंटाइन करना चाहती थी. उन्ही के निर्देश पर एसपी विनय तिवारी को क्वारंटाइन किया गया था. बताया जा रहा है कि यह सब कुछ इसलिए किया जा रहा था जिससे की जांच को प्रभावित किया जा सके.

पुलिस सुत्रों की माने तो मुंबई जांच के लिए गई पटना एसआईटी के अफसर छोटे ढाबे में छिपकर खाना खाते थे. क्योंकि मुंबई पुलिस उन्हें अलग-अलग होटलों में तलाश रही थी. बताया जा रहा है कि सादे कपड़े में मुंबई पुलिस उन पर नजर बना रही थी. सुत्रों ने तो यह भी बताया है कि मुंबई पुलिस ने ऑटो चालकों को पटना एसआईटी का फोटो भी दे रखे थे कि जिससे की यह पता हो सके की वह कहा पर हैं. अच्छा हुआ की पटना पुलिस को इन सभी चीजों के बारे में पता चल गया था. यही वह कारण था जिसके कारण पटना पुलिस कई किलोमीटर तक पैदल ही चला करती थी.

इधर सुशांत के पिता के वकील विकास सिंह ने दावा किया है कि सुशांत की डायरी में कई बड़े छिपे हुए हैं. उन्होंने कहा है कि डायरी को गायब करने में बड़ा खेल किया गया है. बताया जा रहा है कि सुशांत रोजना डायरी लिखते थे. जब रिया सुशांत को छोड़कर चली गई तो वे लगातार 8 जुन से लेकर 14 जुन के बीच में अपनी डायरी लिखी होगी. अब बताया जा रहा है कि उस डायरी में बहुत कुछ है जिसे सामने आने के बाद से सुशांत की आत्महत्या और हत्या की कहानी साफ साफ दिखने लगेगी. लेकिन फिलहाल वह डायरी कहा है किसी को भी पता नहीं है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here