लालू यादव को दोबारा जेल भेजने को लेकर याचिका दायर, JDU ने कहा उनको शर्म नहीं आती है

0
96

चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे राजद सुप्रीमो लालू यादव को फिर से जेल में डालने को लेकर एक याचिका दायर की गई है. यह याचिका झारखंड हाई कोर्ट में दाखिल की गई है. इस याचिका में कहा गया है कि लालू यादव चारा घोटाला के आरोपी है ऐसे में लालू प्रसाद यादव को रिम्स निदेश के बंगले में रखना सही नहीं है. उसमें कहा गया है कि उन्हें फिर से जेल में शिफ्ट कर दिया जाए. इसको लेकर जदयू ने एक बार फिर से राजद पर हमला बोला है.

लालू यादव पर दायर याचिका को लेकर जदयू नेता ललन सिंह ने कहा है कि पीआईएल किसने की, इसकी जानकारी नहीं है. पर 1998 की बात है, जब लालू जेल गए थे, तब गेस्ट हाउस की जेल बना दिया गया था. तब भी सुप्रीम कोर्ट ने टिप्पणी की थी. जेल में सुरक्षा नहीं, तो गेस्ट हाउस में कैसे सुरक्षा होगी. ललन ने आगे बोलते हुए कहा कि भ्रष्टाचार के कारण में उनको शर्म नहीं आती है क्योंकि लालू प्रसाद आदतन भ्रष्टाचारी हैं. मौका मिला भ्रष्टाचार किया.

आपको बता दें कि कुछ दिन पहले ही लालू यादव को दोनों बेटे बारी बारी से राजद सुप्रीमो लालू यादव से मुलाकात करने पहुंचे थे. कहा जा रहा है कि यह सभी मुलाकात राजनीतिक मुलाकात है. बताया तो यह भी जा रहा है कि लालू यादव के निदेशक के बंगले में रहने के कारण बिहार की राजनीतिक प्रभावित हो सकती है. आपको बता दें कि जब लालू यादव रिम्स में थे तो वहां भी कई बार जेल मैनुअल को ताक पर रखकर मीटिंग करते हुए फोटो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा था और वह मेन स्ट्रीम की मीडिया में खबरें थी.

इधर झारखंड बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने कहा है कि ऐसी शिकायतें मिल रही है कि चारा घाटाले में सजा काट रहे राजद सुप्रीमो से बंगले में लोग जेल मैनुअल के नियमों की धज्जियां उड़ा कर लगातार मुलाकात कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि यह बंगला राजद का प्रधान चुनावी कार्यालय बनता जा रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here