मुख्यमंत्रियों के साथ हुई बैठक में बोले PM मोदी, बिहार- गुजरात में टेस्ट बढ़ाने की जरूरत

0
278

भारत समेत विश्व के ज्यातातर देश कोरोना वायरस की चपेट में हैं. भारत में कोरोना इस समय तेजी से फैल रहा है. बिहार में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या मे तेजी से इजाफा हो रहा है. प्रतिदिन 2000 से ज्यादा कोरोना संक्रमित मरीजों की पुष्टि हो रही है. मंगलवार को कोरोना प्रभावित मुख्यमंत्रियों के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बैठक हुई. जिसमें उन्होंने कहा कि समय के साथ कोरोना अपना रूप बदल रहा है. कई तरह की परिस्थितियां पैदा हो रही है. उन्होंने बिहार और गुजरात में कोरोना टेस्ट की रफ्तार में तेजी लाने को कहा है.

पीएम मोदी ने मुख्यमंत्रियों के साथ बात करते हुए कहा है कि अब हमें 72 घंटे के फॉर्मूले पर फोकस करना होगा, जो भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव मिले उनके 72 घंटे में सभी संपर्क में आए लोगों की टेस्टिंग जरूरी है. पीएम मोदी ने कहा कि दिल्ली और यूपी में हालात डराने वाले थे. लेकिन अब टेस्टिंग बढ़ाने के बाद हालात सुधारे हैं.

पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि जिन राज्यों में testing rate कम है,और जहां positivity rate ज्यादा है, वहाँ टेस्टिंग बढ़ाने की जरूरत सामने आई है! खासतौर पर, बिहार, गुजरात, यूपी, पश्चिम बंगाल और तेलंगाना, यहाँ टेस्टिंग बढ़ाने पर खास बल देने की बात इस समीक्षा में निकली है: PM @narendramodi

इस दौरान मुख्यमंत्रियों ने पीएम मोदी से कहा कि इस संकट की घड़ी में सभी को एक साथ आने की जरूरत है. आज 80 प्रतिशत एक्टिव केस सिर्फ दस राज्यों में हैं. देश में एक्टिव केस 6 लाख से ज्यादा हैं, पीएम मोदी ने कहा है इन दस राज्यों के साथ चर्चा जरुरी है. पीएम ने यह भी कहा है कि राज्य अगर अपना अनुभव मिलकर बांटें. टेस्टिंग किट की संख्या बढ़ रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here