बिहार में पुलिस ने की जम कर पिटाई, ऑटो ड्राइवर ने तोड़ा दम, रिश्वत भी मांगी

0
288

जब रक्षक ही बन जाए भक्षक तो कोई आम इंसान क्या करेगा. पूरा मामला मुजफ्फरपुर के कुढ़नी थाने के गुदरी पेठिया गांव का है जहां पुलिस की है-वानियत का एक अमानवीय चेहरा सामने आया है. पुलिस ने थाने में पंकज महतो नाम के एक ऑटो ड्राइवर की इतनी पिटाई की कि उसने थाने में ही दम तोड़ दिया.

यह पूरा मामला मुजफ्फरपुर के कुढ़नी थाने का है. 24 अगस्त के रात में कुढ़नी और सिमरी थाने की पुलिस ऑटो ड्राइवर पंकज के घर पहुंची और घर के अंदर ही बंदूक के कुंदे से मारा फिर गिरफ्तार कर दरभंगा ले गई, दरअसल ऑटो ड्राइवर पंकज महतो पर पिकअप के चोरी करने का आरोप लगा था जिस के कारण उसको पुलिस थाने लेकर गई. पर पंकज महतो को नहीं पता था की एक चोरी के आरोप मे उसकी जान चली जाएगी.

ऑटो ड्राइवर को दरभंगा के सिमरी थाने ले जाने के बाद उनकी जम के पिटाई की गई, 26 अगस्त को पत्नी अपने पति से मिलने सिमरी थाने पहुंची पर पुलिस ने पत्नी को पति से मिलने के लिए 1500 रूपए रिश्वत मांगे, रिश्वत देने के बाद ही पत्नी को पति से मिलने दिया गया, जब पत्नी ने पति से मिला तो पंकज ने पत्नी को बताया कि पुलिस ने मेरी खूब पिटाई की है. मेरी इलाज कराओं नहीं तो मेरी मौत हो जाएगी. जिसके बाद पत्नी और परिवार के लोगों को पुलिस से धमकी दिया भागो नहीं तो तुम सब को जेल मे डाल दूगा.

आखिर सिमरी थाने के पुलिस से ऑटो ड्राइवर को बूरी तरीके से पीट पीट कर उसकी जान लेली और इस तरह ऑटो ड्राइवर पंकज महतो की मौत हो गई. फिर, पंकज के शव को पीएमसीएच में पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया जिसके बाद कुढ़नी में कोहराम मच गया. परिजनों ने मुजफ्फरपुर एसएसपी ने मुलाकात की है और परिजनों ने दोषी पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की मांग की है .एसएसपी ने भरोसा जाते हुए कहा है कि अगर यह सच हो तो दोषियों पर हत्या का केस दर्ज होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here