बिहार में प्रदूषण जांच केंद्र खोलने के लिए मिलेंगे 3 लाख रुपये, जान लें यह नियम

0
595

बिहार सरकार अब रोजगार को ध्यान में रखते हुए वाहन जांच केंद्र खोलने पर जोर दे रही है. एक तो प्रदूषण की भी जांच होगी और दूसरी तरफ लोगों को रोजगार भी मिलेगा. ऐसे में बिहार सरकार ने प्रखंडों में वाहन प्रदूषण जांच खोलने के लिए आवेदकों को अब तीन लाख रुपये की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी. इसके लिे परिवहन विभाग ने आम लोगों से आवेदन आमंत्रित किया है. बता दें कि इस योजना का लाभ वैसे प्रखंडों को मिलेगा जहां पेट्रोलपंप एवं वाहन सर्विस सेंटर के अतिरिक्त एक भी वाहन प्रदूषण केंद्र नहीं है. इसको लेकर बोलते हुए परिवहन मंत्री शीला कुमार ने बताया है कि नये प्रदूषण जांच केंद्र खुलने से लोगों को रोजगार का अवसर मिलेगा एवं लोगों को वाहन प्रदूषण जांच कराने में भी सहूलियत होगी.

विभाग की तरफ से यह भी बताया गया है कि जिस उपकरण की खरीद की जाएगी उसका 50 प्रतिशत अनुदान के रूप में दिया जाएगा. अनुदान को लेकर बोलते हुए परिवहन विभाग के सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने बताया कि प्रखंडों में वाहन प्रदूषण जांचकेंद्र खोलने के लिए वाहन प्रदूषण जांच केंद्र प्रोत्साहन योजना लागू की गयी है. इसके तहत प्रदूषण जांच केंद्र खोलने के लिए उपयोग में लाये जाने वाले उपकरणों में स्मोक मीटर, गैस एनालाइजर, डेस्कटॉप इंटरनेट के साथ, प्रिंटर एवं यूपीएस की खरीद पर 50 प्रतिशत की राशि या फिर अधिकतम 3 लाख रुपए प्रोत्साहन राशि के रूप में दिया जाएगा.

विभाग की तरफ से इसको लेकर योग्यता का भी निर्धारण किया गया है.

आवेदन को उसी प्रखंड का स्थायी निवासी होना होगा. जिस प्रखंड में यह जांच केंद्र खोला जाएगा.

आवेदक स्वायं या उसका स्टॉफ मैकेनिकल,इलेक्ट्रिकल या ऑटोमोबाइल अभियंत्रण में डग्रिीधारी अथवा डप्लिोमा हो अन्यथा इंटरमीडिएट, बारहवीं कक्षा (विज्ञान के साथ) उत्तीर्ण हो , या मोटरवाहन से संबंधित किसी ट्रेड में आइटीआइ उत्तीर्ण हो.

चयन की प्रक्रिया

एक से अधिक आवेदन आने पर उच्चतर शैक्षणिक योग्यता को प्राथमिकता किसी प्रखंड के लिए एक से अधिक आवेदन प्राप्त होने की स्थिति में उच्चतर शैक्षणिक योग्यता को प्राथमिकता दी जायेगी. दो आवेदन की शैक्षणिक योग्यता समान होने पर उच्चतम योग्यता के अंकों के आधार पर चयन किया जायेगा. योग्य अभ्यर्थियों के चयन के लिए आवेदन की उचचतर शैक्षणिक योग्यता मान्य होगी.

परिवहन विभाग ने आवेदक की मांग की है.

प्रखंडों में वाहन प्रदूषण जांच केंद्र खोलने के लिए इच्छुक आवेदक 15 जनवरी 2022 तक विहित प्रपत्र में आवेदन संबंधित जिला परिवहन कार्यालय में दे सकते हैं. योग्य लाभुकों का चयन 17 जनवरी 2022 तक किया जायेगा. जिला परिवहन पदाधिकारी द्वारा चयनित लाभार्थियों की प्रखंडवार सूची का प्रकाशन 24 जनवरी 2022 तक संबंधित प्रखंडों में किया जायेगा. इसके बाद 25 जनवरी 2022 को इसका अंतिम प्रकाशन किया जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here