प्रणब दा के ‘1 रुपये वाले डॉक्‍टर दोस्त’ ने उन्हें कुछ यूं किया याद

0
72

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी पिछले कुछ दिनों से बीमार चल रहे थे. सोमवार की सुबह दिल्ली के छावनी स्थित अस्पताल में उनका निधन हो गया है. अस्पताल की तरफ से जारी हेल्थ बुलेटिन में कहा गया कि वह गहरे कोमा में थे और उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया है. निधन की जानकारी प्रणब मुखर्जी के बेटे अभिजीत मुखर्जी ने दी है.

पूर्व राष्ट्रपति के निधन के बाद देशभर और विदेशों मे शोक कि लहर है. निधन के बाद प्रणब मुखर्जी के दोस्‍त डॉ. सुशोवन बनर्जी (sushovan banerjee) ‘1 रुपये वाले डॉक्‍टर दोस्त ‘ के नाम से मशहूर जिन्होंने अपने दोस्त प्रणब मुखर्जी के बारे मे कुछ यादों को साझा किया है.

बीरभूम के रहने वाले डॉक्टर सुशोवन बनर्जी पश्चिम बंगाल में ‘एक रुपये वाले डॉक्‍टर’ के नाम से काफ़ी मशहूर हैं. हम आपको बाता दे , डॉ. सुशोवन बनर्जी (sushovan banerjee) को 1 रुपये में गरीबों के इलाज के लिए पद्मश्री भी मिल चुका है. दोनों के बीच काफ़ी अच्छी दोस्ती थी, इन दोनों दोस्तों का एक दूसरे के प्रति प्यार इतना था कि दोनों मित्र एक दूसरे से मिलने के लिए एक दूसरे घर आया जाया करते थे, डॉक्टर साहब प्रणब मुखर्जी से मिलने के लिए दिल्ली जाते थे और प्रणब दा अपने दोस्त से मिलने बीरभूम जाते थे.

प्रणब दा के निधन पर डॉ. बनर्जी ने कहा, ‘प्रणब मुखर्जी जी 1978 में मेरे चैंबर में आए थे. तबसे वह मेरे बड़े भाई के समान हो गए थे. मैं उनके साथ दिल्‍ली, मुंबई समेत कई स्‍थानों पर गया. मैं कई बार उनके आवास पर भी ठहरा. वह सच में बहुत अच्‍छे इंसान थे. उनका हृदय काफी बड़ा था. आज जो भी इंसान गया है, वह समाज की बेहतरी करने वाला इंसान था.’

प्रणब दा के बेटे अभिजीत मुखर्जी ने ट्वीट कर उनके निधन की जानकारी दी थी. उन्‍होंने कहा था, ‘भारी मन से आपको सूचित करना है कि मेरे पिता श्री प्रणब मुखर्जी का अभी कुछ समय पहले निधन हो गया. आरआर अस्पताल के डॉक्टरों के सर्वोत्तम प्रयासों और पूरे भारत के लोगों की प्रार्थनाओं और दुआओं के लिए मैं आप सभी को हाथ जोड़कर धन्यवाद देता हूं.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here