शहीदों के परिवारों के सहायता के लिए मिले करोड़ों रूपए

0
594

सीआरपीएफ जवानों की शहादत पर जितना देश को आक्रोश है, उतना ही दुख भी है। देश का हर नागरिक इस दुःख की घडी में शहीद के परिवार के साथ मजबूती से खड़ा रहने का सन्देश दे रहा है। कई हस्तियों ने और भारत के नागरिकों ने मिलकर शहीदों के परिवार के लिए 45 करोड़ से ज्यादा की रकम दान की है। शहीदों के परिवार के मदद के लिए बनाये गए वेब पोर्टल “भारत के वीर” पर ये रकम दान की गयी है। हर एक शहीद के परिवार को भारत सरकार ने इस रकम से 15-15 लाख रूपए आर्थिक मदद देने का ऐलान किया है।

“भारत के वीर” पोर्टल पर देश की आम जनता द्वारा इस दान की गयी इस रकम से पुलवामा हमले के शहीदों के परिवार को गृह मंत्रालय ने देने का ऐलान किया है। देश के हजारों नागरिकों ने अपनी हैसियत के मुताबिक शहीदों के लिए दान दिया है। कई स्कूली बच्चों ने तो अपनी महीने की पॉकेट मनी दान दे दी है। वहीँ खेल जगत और बॉलीवुड के कई हस्तियों ने दिल खोल कर शहीदों की मदद की है। कुश्ती खिलाडी योगेश्वर दत्ता ने अपनी तरफ से 5,25,000 रूपए दान किये और हर महीने हर साल अपने पहले महीने की तनख्वाह “भारत के वीरो” के दान देने का प्रण भी लिया है।

“भारत के वीर पोर्टल को मिले अद्भुदद समर्थन के लिए हम सभी का शुक्रिया अदा करते हैं। आपके दिए गए योगदान से 15-15 लाख रूपए की आर्थिक मदद हर शहीद जवान के परिवार को दी जाएगी। अब भी आप इस पोर्टल पर मदद भेज सकते हैं, जिसका उपयोग सहायता के लिए किया जायेगा।” एक रिपोर्ट के मुताबिक, पुलवामा के हमले के बाद “भारत के वीर” पोर्टल पर करीब 80 हज़ार लोगों ने 46 करोड़ की राशि को शहीदों के परिवार के लिए दान किया है। “भारत के वीर” पोर्टल के कई बार क्रैश होने की बात लोगों की इतनी बड़ी संख्या में मदद के वजह से आ चुकी है। केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा की सैन्य बालों का बालोद्यान व्यर्थ नहीं जायेगा, और आतंकवाद के खिलाफ लड़ने के के लिए देश एकजुट है। अपने देश से आतंकवाद को जड़ स्वे ख़त्म करने के लिए सरकार कृतसंकल्प है।

सीआरपीएफ के जवानो पर बीते सप्ताह हुए आतंकिओ हमले में 44 जवान शहीद हो गए थे। पाकिस्तान को इस हमले के लिए जिम्मेदार मानते हुए उससे मोस्ट फेवर्ड नेशन यानी तरजीही राष्ट्र का दर्जा भारत ने छीन लिया था। वित्त मंत्री ने भी कहा की पाकिस्तान को इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा। केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ निर्णायक युद्ध देश एकजुट होकर लड़ रहा है, और उसकी जीत निश्चित रूप से होगी। उन्होंने कहा की देश भारत के साथ है और सुरक्षा बालों का मनोबल ऊंचा है। उन्होंने दोहराया कि आतंकवाद फैलाने के नापाक मंसूबे के लिए केवल मुट्ठी भर गुमराह नौजवानों ने सीमापार बैठे लोगों से हाथ मिलाया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here