रेल मंत्री ने 9 राज्यों के मुख्यमंत्रियों को लिखा चिट्ठी, कहा प्रधानमंत्री इस परियोजना को देख रहे हैं

0
236

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने नौ राज्यों के मुख्यमंत्रियों को पत्र लिखकर उनसे डेडिकेटेट फ्रेट कॉरिडोर परियोजना में अड़चनों को दूर करने का आग्रह किया और कहा कि प्रधानमंत्री परियोजना पर करीबी नजर रख रहे हैं. गोयन ने अपनी मुख्यमंत्रियों के लिखे पत्र में उन्होंने मांग कि है कि भूमि संबंधी मुद्दों, ग्रामीणों की मांगों और राज्य के अधिकारियों द्वारा धीमी गति से काम करने का मामला उठाया जिसमें 81,000 करोड़ रुपये की डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर परियोजना का काम प्रभावित हुआ है.

प्रधानमंत्री कार्यालय से इस मामले चिंता जाहिर की गई है जिसके बाद पीयूष गोयल ने गुजरात, उत्तर प्रदेश, बिहार, पंजाब पश्चिम बंगाल, हरियाणा, राजस्थान, महाराष्ट्र और झारखंड के मुख्यमंत्रियों को पत्र लिखा है. जिसमें उन्होने कहा है कि कॉरिडोर लंबे समय से लंबित मुद्दा बना हुआ है. उन्होने लिखा है कि अभी तक इसका कोई समाधान नहीं हुआ है.

इस कोरिडोर को लेकर रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष वी के यादव ने कहा कि दो डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर निर्माणाधीन है- पश्चिमी डेडिकेटेड फ्रेड कॉरिडोर जो उत्तर प्रदेश से मुंबई तक और पूर्वी डेडिकेटेड फ्रेड कॉरिडोर जो पंजाव के लुधियाना से पश्चिम बंगाल के दानकुनी तक है और इन कॉरिडोर का काम दिसंबर 2021 तक पूरा किया जाना था लेकिन अब इस तिथि को छह महीने आगे यानी जून 2022 तक बढ़ा दिया गया है. उन्होंने यह भी बताया कि कोरोना वायरस महामारी के कारण काम में व्यवधान के कारण देरी हुई.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here