निर्विरोध बिहार राज्यसभा सीट पर चुने गए JDU, BJP और RJD के ये पांच प्रत्याशी

0
1042

राज्यसभा चुनाव आने में अभी समय है मगर बिहार की सभी राज्यसभा सीटों पर उम्मीदवारों का चयन निर्विरोध कर लिया गया है. इतना ही नहीं निर्धारित समयानुसार राज्यसभा के इन पांचो प्रत्याशियों को जीत का प्रमाण पत्र सौंप दिया गया है. जिसके तहत जदयू की तरफ से राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश नारायण सिंह और रामनाथ ठाकुर को राज्यसभा में भेजा गया है वहीं भज ने अपनी तरफ से यह सीट राज्यसभा के पूर्व उम्मीदवार सीपी ठाकुर के बेटे विवेक ठाकुर को राज्यसभा में भेजा है. वहीं कांग्रेस के साथ वादा करके मुकरी राजद ने अपने खेमे में दोनों सीटों को रखते हुए अमरेन्द्र धारी सिंह और प्रेमचन्द्र गुप्ता को राज्यसभा भेजा है.

आपकी जानकारी के लिए आपको बता दे चयनित पांचो उम्मीदवार में से NDA के उम्मीदवार पहले भी राज्यसभा का हिस्सा रह चुके है मगर राजद ने राज्यसभा के लिए इस बार दोनों नए प्रत्याशियों को भेजने का फैसला सुनाया है.

 

बिना चुनाव के कैसे बने प्रत्याशी

आपमें से बहुत लोगो को यह लग रहा होगा कि जब चुनाव होने की तारीख 26 मार्च की तय की गयी है तो चुनाव से पहले ही इन प्रत्याशियों का चयन कैसे हो गया? तो हम आपको बता दे चुनाव के समय में अगर पांचो सीट के लिए पांच से ज्यादा उम्मीदवारो ने नामांकन भरा होता तो चुनाव करवाने की नौबत आती है, हालाँकि इन पांचो सीट के लिए किसी भी दुसरे उम्मीदवार ने अपना नामांकन नहीं भरा था वहीं भरे गए पांचो नामांकन में भी कोई त्रुटी नहीं पाई गयी थी इसीलिए निर्विरोध इन सभी उम्मीदवारों का चयन कर लिया गया.

राज्यसभा चुनाव के बाद महागठबंधन में नहीं है सब कुछ ठीक

“आल इस वेल” का दावा करने वाली महागठबंधन सरकार में सब कुछ ठीक नहीं है. जिसका अंदाजा जीतन राम मांझी के प्रेस कांफ्रेंस में राजद को दी गयी खुली चुनौती को देखर लगाया जा सकता है. जहाँ एक तरफ राज्यसभा चुनाव में राजद ने कांग्रेस को किया हुआ वादा तोडा वहीं दूसरी तरफ अपने सहयोगी दलों के कोआर्डिनेशन कमिटी को बनाने की मांग को भी सिरे से नकार रही है. ऐसे में धीरे धीरे करके सभी दलों में फुट की स्थिति उत्पन्न होती देखी जा सकती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here