नियोजित शिक्षकों को लेकर महागठबंधन ने कहा- हमारी सरकार बनी तो सभी मांगे पूरी होगी, JDU-BJP ने किया पलटवार

0
111

बिहार में नियोजित शिक्षकों को लेकर प्रदेश में राजनीति शुरू हो गई है. विपक्ष इस समय सरकार पर लगातार हमलावर हैं. वह बाढ़ कोरोना के साथ ही सरकार की नीतियों को लेकर भी सरकार पर हमलावर हैं. राजद वर्तमान में नियोजित शिक्षकों की मांगो को लेकर राजद ने कहा है कि अगर हमारी सरकार बनती है तो हम बिना शर्त शिक्षकों की सभी मांगे मान लेंगे.

राजद नेता और पूर्व मंत्री शिवचंद्र राम ने कहा है कि अगर प्रदेश में अगली सरकार हमारी पार्टी की आई तो हम लोग बिना शर्त इन शिक्षकों की तमाम मांगों को मान लेंगे. वहीं पूर्व मंत्री श्याम रजक कहते हैं राज्य सरकार शिक्षकों और दूसरी नियोजित कर्मचारियों में भेदभाव करती है, जो नहीं होना चाहिए.

इधऱ विपक्ष द्वारा सरकार के ऊपरआरोप लगाए जाने के बाद सरकार भी जवाबी हमलावर हो गई है. जदयू नेता अजयआलोक ने कहा है कि अब इन लोगों के लाठी पीटन से कुछ नहीं होने वाला है. हमारी सरकार से सदैव शिक्षकों की भलाई सोची और उसी के तहत नियोजित शिक्षकों के लिए सेवा शर्त नियमावली लाने का काम किया है. उन्होने यह भी कहा कि जहां तक बात रही नियोजतित शिक्षकों को सेवा शर्त के साथ जोड़ने की तो यह नियमावली तो दूसरे विभागों में भी है.

इधऱ बीजेपी नेता सम्राट चौधरी ने राजद ने हमला बोलते हुए कहा कि जिन लोगों ने शिक्षकों को कभी सम्मान नहीं दिया. वो आज चुनाव को देखते हुए अपनी राजनीति चमकाना चाह रहे हैं. मगर इन लोगों को कामयाबी नहीं मिलने वाली है. उन्होंने कहा कि इस बयानबाजी के पीछे की जो तस्वीर दिख रही है वो साफ बता रही है कि आगामी चुनाव में शिक्षकों से जुड़े वोट बैंक को तमाम सियासी दल अभी रिझाने में लगे हैं. उन्होंने यह भी कहा कि सभी लोग जानते हैं चुनाव खत्म होते ही शिक्षकों से दिख रहा सियासी मोहब्बत भी ज्यादा दिन नहीं चलेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here