नई गाड़ियों के पंजीकरण पर लगी पाबंदी, इन तीन राज्यों को छोड़कर

0
1072

वाहन खरीदने वालों या चलाने वालों के लिए मायूसी भरी खबर सामने आयी है। केंद्र सरकार ने सभी प्रकार के चलने वाली गाड़ियों के लिए पंजीकरण अनिश्चित समय के लिए बंद कर दिया है। उधर, पंजीकरण को बंद कर देने से पूरे देश में बहुत सारे व्यक्ति और उद्योग इससे प्रभावित होंगे। NIC यानि राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र ने यह रोक लगायी है। जानकारी के मुताबिक, पंजीकरण के मुताबिक, यह पाबंदी 2 मई से लागू हो चुकी है।

NIC ने मंत्रालय के आदेश के बाद लगायी पाबंदी

खबर की माने तो, NIC ने यह पाबंदी केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्रालय के आदेश के बाद लगायी है। मंत्रालय ने यह रास्ता इसलिए अपनाया है क्योंकि हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट यानि HSNP को ‘वाहन’ डाटा से नहीं जोड़ा गया था। मंत्रालय के आदेश के बाद गाड़ियों के पंजीकरण के लिए NIC ने ट्रांसपोर्ट मिशन मोड प्रोजेक्ट के पैन-इंडिया एप्लिकेशन ‘वाहन’ के एक्सेस को बंद कर दिया गया है।

 

गाड़ियों को ‘वाहन’ डेटाबेस से जोड़ना आवश्यक

जानकारी के मुताबिक, वाहन डेटाबेस के साथ पंजीकरण प्लेट के एकीकरण को लेकर 4 अप्रैल को दिल्ली में परिवहन मंत्रालय सहित कई विभागों की बैठक हुई थी। ये रास्ता अपनाने के बाद देशभर में किसी तरह के गाड़ियों के पंजीकरण पर पाबंदी लगा दी गयी है। वहीँ दूसरी तरफ, मध्य प्रदेश, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में ये निर्देश लागू नहीं होगा, क्योंकि इन राज्यों के पास अपना एक अलग से सॉफ्टवेयर है। इसलिए वो नया पंजीकृत किए गए वाहनों को RC जारी कर सकते हैं।

HSNP नए गाडी पर लगाना अनिवार्य

इस व्यवस्था के जरिये नया वाहन खरीदने के बाद अब HSRP लगाना आवश्यक होगा। विभाग के निर्देश पर गाडी के निर्माताओं के गाडी के साथ ही HSRP देना आवश्यक है। उधर, स्थानीय डीलरशिप को वाहन बेचने से पहले ये नंबर प्लेट उस पर लगाना आवश्यक होगा।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here