झारखण्ड विधानसभा के तर्ज पर बिहार में जीत सुनिश्चित करने के जुगाड़ में है राजद

0
460

झारखण्ड (JHARKHAND) में भाजपा (BJP) को सरकार को हटा दिए जाने के बाद राजद का उत्साह बढ़ गया है और अब उसकी नजर बिहार विधनसभा चुनाव (BIHAR ASSEMBLY ELECTION) पर है. राजद ने बिहार में सत्ता पर काबिज के लिए अपना एजेंडा तय करने के जुगत में लग गई है.

इसी एजेंडा के तहत राजद जहाँ सवर्णों के आरक्षण का विरोधी था वहाँ अब समर्थक बन चुका है। कोई भी पार्टी में आ सकता है और योग्यता होने पर टिकट की दावेदारी भी कर सकता है.

तेजस्वी यादव(TEJASVI YADAV) ने ऐलान भी कर दिया है कि मुस्लिम-यादव समीकरण को तरजीह दिए जाने के लिए अब किसी को भी नजरअंदाज नहीं किया जा स्काट है. इसलिए उन्होंने संगठन के सरे पदों को अति पिछड़ों और एससी-एसटी के लिए 45 फीसदी आरक्षण की बात कही गई है.

हालाँकि अभी तक जिलों, प्रदेशों और राष्ट्रीय स्तर पर संगठन का विस्तार नहीं हो सका है। राबड़ी देवी (Rabdi devi) ने कहा है कि 14 जनवरी के बाद ही संगठन का विस्तार किया जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here