टिकट नहीं मिलने के वजह से फूट फूट कर रोये राजद विधायक, महागठबंधन को हराने की ठानी

0
285

बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर कई नेता वर्षों से चुनाव लड़ने का इंतजार कर रहे हैं. वहीँ इस चुनावी साल में कई नेताओं को झटका लगा है. राजनितिक पार्टियों द्वारा टिकट नहीं दिए जाने को लेकर नेताओं के रोने की वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है.

टिकट नहीं मिलने के वजह से नेता अपना दर्द बयां करते करते रोने लगे हैं। राजद से टिकट की उम्मीद लगाए राजद नेता सुरेश यादव रक्सौल सीट से चुनावी मैदान में हुंकार भरना चाहते थे मगर ऐसा हो नहीं सका. यह सीट महागठबंधन में हुए बंटवारे के दौरान कांग्रेस के खाते में चली गई।

सुरेश यादव ने इस बाबत कहा है कि उनके साथ धोखा हुआ है. साल 2005 से वे राजद के लिए कार्य कर रहे हैं और उनको टिकट नहीं दिया गया. वे महागठबंधन के उम्मीदवार को हराने की कसम खाते हैं। वे निर्दलीय ही चुनाव मैदान में हुंकार भरेंगे। उनका कहना है कि क्षेत्र की जनता उनके साथ है।


बताते चलने कि नरकटियागंज की भाजपा महिला नेता को भी टिकट नहीं मिलने से वे रोने लगी थी और निर्दलीय चुनाव का एलान कर दिया। वहीँ बोचहा विधानसभा सीट से भी भाजपा महिला नेता बेबी कुमारी को टिकट नहीं दिया गया जिसके बाद वे भी रोने लगी थी। वे लोजपा के टिकट से चुनावी मैदान में उतरने की तैयारियां कर रही है. वहीँ उन्होंने भाजपा पर विधवासघात का आरोप लगाया और साथ ही यह सीट वीआईपी के खाते में गई जिसके बाद उन्हें टिकट न देकर अन्य से टिकट को पैसे लेकर बेच दिया गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here